Home » क्रिकेट » World Cup 2019: BCCI Angry with Team India Selection Committee For Number four batsman
 

World Cup 2019: भारतीय टीम की सबसे बड़ी समस्या को लेकर चयन कर्ताओं से नाराज है बीसीसीआई

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 July 2019, 21:11 IST

ICC Cricket World Cup 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में टीम इंडिया के बल्लेबाजों की कलई खुलकर सामने आ गई थी. इस मुकाबले में टीम का टॉप आर्डर नाकाम रहा लेकिन इसके बाद क्रीज परबल्लेबाजी करने आए मध्यक्रम के बल्लेबाजों ने एक बार फिर टीम को निराश किया. भारतीय बल्लेबाजों के खराब प्रदर्शन के कारण टीम का तीसरी बार विश्व चैंपियन बनने का सपना टूट गया.

विश्व कप के सेमीफाइनल मुकाबले में हारने के बाद टीम मैनेजमेंट और चयन समीति लगातार क्रिकेट के दिग्गजों और क्रिकेट प्रेमियों के निशाने पर है. दरअसल, बीते कई सालों से भारतीय टीम के लिए, नंबर चार पर किस बल्लेबाज को खिलाया जाए, यह सबसे बड़ी समस्या बन गया है. टीम ने विश्व कप के मुकाबलों से पहले तक इस पोजिशन पर लगातार कई प्रयोग किए. विश्व कप में के मुकाबलों में भी इस पोजिशन पर टीम ने प्रयोग किया. वहीं अब लग रहा है कि बीसीसीआई इन लोगों पर एक्शन लेने का मूड बना चुका है.

 

वहीं अब बीसीसीआई के एक अधिकारी ने न्यूज एंजेसी आईएएनएस से बात करते हुए कहा,'जब टीम कोई टूर्नामेंट जीतती हैै तो सिलेक्टर्स को उनके प्रदर्शन के लिए नकद ईनाम दिए जाते हैं, लेकिन जब टीम हारती है तो केवल खिलाड़ियों की आलोचना की जाती है. सिलेक्टर्स का क्या?'

इस अधिकारी ने टीम में नंबर चार पर हो रहे लगातार बदलाव के बारे में भी बोला है. आईएएनएस से बातचीत में उन्होंने कहा,'मुख्य रूप से सिलेक्शन कमेटी के चेयरमैन का क्या? वह लगातार टीम के साथ टूर करते रहते हैं और उन्हें निश्चित रूप से उन चीजों पर ध्यान देना चाहिए कि टीम को किस जगह सुधार की जरूरत है. नंबर 4 के लिए जिस तरह का म्यूजिकल चेयर गेम खेला जा रहा था उसे चेयरमैन पर रोका जाना चाहिए क्योंकि वही इसके लिए म्यूजिक बजा रहे थे.'

 

विश्व कप के लिए चुनी गई 15 सदस्यीय टीम के बारे में उन्होंने कहा,'इस जगह पर वे पूरी तरह विफल रहे. एक ओपनर के चोटिल होने पर आप मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज को भेज रहे हो जिसे कि पहले से ही टीम का हिस्सा होना चाहिए था. जब आपका मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज चोटिल होता है तो आप ओपनर को भेज देते हो. टीम मैनेजमेंट क्या चाहता है इससे फर्क नहीं पड़ता, निर्णय सिलेक्टर्स को लेना चाहिए.'

बता दें, विश्व कप के लिए जिन लोगों ने 15 सदस्यीय टीम का चयन किया था उसमें एस के प्रसाद, देवांग गांधी, गगन खोड़ा, जतिन परांजपे और सरनदीप सिंह शामिल थे. बीसीसीआई के तल्ख तेवर के बाद माना जा रहा है कि टीम की हार पर इन लोगों पर भी गाज गिर सकती है. लेकिन अभी इसमें समय है क्योंकि यह लोग तब तक अपनी भूमिका निभाते रहेंगे जब तक BCCI की सालाना जनरल बैठक नहीं हो जाती है.

World Cup 2019: अगर बारिश के कारण रद्द हुआ मैच तो इस टीम को मिलेगा विश्व कप का खिताब

First published: 13 July 2019, 21:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी