Home » क्रिकेट » World Cup 2019: Jasprit bumraha said pitches in England not Bowlers Friendly
 

World Cup 2019: जसप्रीत बुमराह ने बताया आखिर क्यों विश्व कप में नहीं ले पा रहे विकेट

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 June 2019, 23:11 IST

ICC Cricket World Cup 2019 में भारत अब तक चार मुकाबले खेल चुका है जिसमें उसे तीन में जीत मिली है जबकि एक में उसे हार का सामना करना पड़ा है. वहीं वनडे मैचों में दुनिया के नंबर एक गेंदबाज अभी तक मात्र 5 बल्लेबाजों को ही पवेलियन की राह दिखा पाए है. हालांकि जसप्रीत बुमराह ने अंतिम के ओवरों में आकर काफी किफायती गेंदबाजी की है जिसका फायदा भी टीम को मिला है. वहीं अब खुद बुमराह ने बताया कि आखिर वो इस टूर्नामेंट में अभी तक ज्यादा विकेट क्यों नहीं चटका पाए है.

अफगानिस्तान के खिलाफ मुकाबले से पहले गुरूवार को पत्रकारो से रूबरू हुए तेंज गेंदबादज जसप्रीत बुमराह ने कहा कि इंग्लैंड में पाटा पिचें है जिस कारण उन्हें पिच से मदद नहीं मिल पा रही है. बुमराह ने कहा'मैंने अब तक सफेद गेंद से जितनी भी क्रिकेट खेली है, मेरा मानना है कि इंग्लैंड की पिचें सबसे सपाट है. इन पिचों पर गेंदबाजों को कोई मदद नहीं मिल रही है.'

World Cup 2019: जसप्रीत बुमराह ने किया खुलासा, बोले- अगर नहीं होता टीम में सलेक्शन तो बेचता सैंडविच

 

विश्व कप के शुरू होने से पहले ही यह बात कही जा रही थी इंग्लैंड की पाटा पिचे तेज गेंदबाजों के लिए बिल्कुल भी मददगार साबित नहीं होने वाली है. लेकिन कुछ दिग्गज क्रिकेटरों का ऐसा भी मानना था कि तेज गेंदबाजों को स्विंग मिल सकता है जिससे उन्हें विकेट लेने में आसानी होगी.

वहीं इस पर बुमराह ने कहा,'यहां बादल मंडराते रहते हैं और लगता है कि गेंद स्विंग लेगी लेकिन ना तो सीम मिल रही है और ना ही स्विंग. आपको अपनी सटीकता और स्पष्टता पर भरोसा रखना होता है. हमें पता है कि इंग्लैंड में विकेट सपाट है और गेंदबाजी करते समय हम सबसे बदतर स्थिति को ध्यान में रखते हैं. थोड़ी भी मदद मिलती तो सामंजस्य बिठाना आसान हो जाता.'

वहीं उन्होंने आगे कहा कि जिस दिन मैच होते है उस दिन विकेट देखकर दी टीम संयोजन करना अच्छा रहता है. उन्होंने कहा,'यदि इन चीजों पर फोकस नहीं किया तो मैच के दिन देखना होगा कि क्या सही रहता है. विकेट से मदद नहीं मिलने पर हमें अपनी ताकत पर फोकस करना चाहिए.'

T20 इतिहास में जो नहीं कर पाई ऑस्ट्रेलिया और भारत जैसी मजबूत टीमें, वो कारनामा कर दिखाया युगांडा ने

First published: 20 June 2019, 23:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी