Home » क्रिकेट » World Cup 2019: one throw by Martin Guptil shatters India's dream of Winning World Cup
 

World Cup 2019: मार्टिन गुप्टिल के एक थ्रो ने तोड़ा भारत का सेमीफाइनल में पहुंचने का सपना, बने जीरो से हीरो

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 July 2019, 22:30 IST

ICC Cricket World Cup 2019 के पहले सेमीफाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड ने भारत को 18 रनों से हरा दिया. इस हार के साथ ही भारत का विश्व कप के 12वें संस्करण का चैंपियन बनने का सपना टूट गया है. भारत की इस हार के जिम्मेदार उसकी बल्लेबाजी है. वहीं इस मुकाबले में न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल ने एक ऐसा थ्रो किया जिसने भारत का तीसरी बार विश्व चैंपियन बनने का सपना तोड़ दिया है. साथ ही इस थ्रो ने उन्हें जीरो से हीरो बना दिया है.

मार्टिन गुप्टिल ने साल 2015 के विश्व कप में 500 से अधिक रन बनाए थे. मार्टिन न्यूजीलैंड के ऐसे पहले बल्लेबाज थे जिन्होंने विश्व कप के एक संस्करण में 500 रनों का आंकड़ा पार किया था. लेकिन विश्व कप के 12वें संस्करण में उनका बल्ला खामोश है. गुप्टिल इस विश्व कप में मात्र 167 रन बना पाए है. वहीं भारत के खिलाफ सेमीफाइनल जैसे अहम मुकाबले में भी वो फ्लाफ रहे और 1 रन बनाकर आउट हुए. गुप्टिल के साथ जीरो का टैग जुड़ गया लेकिन भारत के खिलाफ अहम मुकाबले में वो एक थ्रो से जीरो से हीरो बन गए. उनके इस थ्रोे के कारण ही न्यूजीलैंड विश्व कप के फाइनल में पहुंच पाया है.

विश्व कप के 12वें संस्करण के पहले सेमीफाइनल मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड ने 239 रन बनाए और भारत को जीत के लिए 240 रनों का लक्ष्य दिया. न्यूजीलैंड से मिले लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की बल्लेबाजी इस मुकाबले में पूरी तरह लड़खड़ा गई. टीम ने रोहित शर्मा, कप्तान विराट कोहली, सलामी बल्लेबाज के एल राहुल का विकेट मात्र 5 रन के स्कोर पर ही गंवा दिया. वहीं इसके बाद क्रीज पर आए दिनेश कार्तिक भी 6 रन बनाकर आउट हुए. हालांकि इसके बाज मिडिल आर्डर ने पारी को जरूर संभाला और टीम को जीत की तरफ ले गए. भारत के लिए इस मुकाबले में जडेजा ने अर्धशतकीय पारी खेली.

जडेजा बड़ा शॉट खेलने के लिए गए और कैच आउट हुए. इसके बाद भारतीय टीम का पूरा दारोमदार एम एस धोनी पर आ गया. जडेजा जब आउट हुए तब भारत को जीत के लिए 13 गेंदों पर 32 रनों की जरूरत थी. धोनी ने भारत को कई बार ऐसी मुश्किल परिस्थिति से निकाला है. वहीं 48वें ओवर की पहली ही गेंद पर उन्होंने छक्का जड़कर अपने इरादे भी जाहिर कर दिए थे लेकिन ओवर की तीसरी गेंद पर ही वो दो रन लेने के दौरान रन आउट हो गए.

धोनी को आउट करने के लिए गुप्टिल ने थ्रो मारा जो सीधा विकेट पर लगा और यह से सारा पासा पलट गया और भारत का फाइनल में पहुंचने का सपना टूट गया.

World Cup 2019: इन खिलाड़ियो के कारण टूटा भारत का फाइनल में पहुंचने का सपना

First published: 10 July 2019, 22:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी