Home » क्रिकेट » Wriddhiman Saha Returns After Shoulder Surgery in Manchester, Hopeful Saha Comeback before Australia Tour
 

टीम इंडिया के लिए आई बड़ी खुशखबरी, चोट से उबरा ये प्लेयर इस दिन करेगा कमबैक

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 August 2018, 8:38 IST
(File Photo)

भारतीय टेस्ट टीम के विकेटकीपर-बल्लेबाज रिद्धिमान साहा से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आई है. रिद्धिमान साहा गुरुवार को मैनचेस्टर से कंधे की चोट की सर्जरी कराकर स्वदेश लौट आए हैं. बता दें कि इस खर्च का जिम्मा बीसीसीआई ने उठाया था. वहीं, रिद्धिमान साहा को उम्मीद है कि वह जल्द वापसी करेंगे. कंधे की चोट की सर्जरी कराकर लौटे रिद्धिमान साहा ने उम्मीद जताई है कि वह दिसम्बर में होने वाले ऑस्ट्रेलियाई टूर के लिए फिट हो जाएंगे.

 

 

मैनचेस्टर से कंधे की सर्जरी कराने के बाद मुंबई में लौटे विकेटकीपर-बल्लेबाज रिद्धिमान साहा ने संवाददाताओं से कहा, "मैं अपने हाथ को तीन सप्ताह तक घुमा नहीं पाऊंगा. यह आसान नहीं है. आप हाथ हिला नहीं सकते और उसे सिर्फ एक जगह पर ही रखना है. यह तेज गेंदबाजों का सामना करने से भी बुरा है, लेकिन आगे जाने और वापसी करने का यही एक रास्ता है."

आपको बता दें, रिद्धिमान साहा के दाहिने(राइट) हाथ की कोहनी के नीचे पट्टी बंधी हुई थी. इसी हाथ की मैनचेस्टर के आर्म क्लिनिक में सर्जरी हुई है. हालांकि, अभी भी रिद्धिमान साहा घर नहीं जा सकेंगे और कुछ सप्ताह वह नेशनल क्रिकेट एकेडमी (एनसीए) में स्वास्थ लाभ से गुजरेंगे. गौरतलब है कि रिद्धिमान साहा को आईपीएल 2018 के दौरान अंगूठे में चोट लग गई थी.

बता दें कि आईपीएल में लगी चोट के बाद वह अफगानिस्तान के खिलाफ खेले गए एकमात्र टेस्ट मैच से भी बाहर हो गए थे. इसके बाद रिद्धिमान साहा को एक बड़ी चोट का सामना करना पड़ा था. इस वजह से वह इंग्लैंड दौरे से भी बाहर हो गए थे. दरअसल, रिद्धिमान साहा को आईपीएल के बाद कंधे में भी चोट लग गई थी. इसके बाद बीसीसीआई ने साहा को इलाज के लिए भेजा था. इसके लिए साहा ने बोर्ड का शुक्रिया भी किया है.

वहीं, आपकी जानकारी के लिए बता दें, ऑस्ट्रेलिया के साथ टीम इंडिया की टेस्ट सिरीज छह दिसंबर से हो रही है. ऐसे में रिद्धिमान साहा की वापसी की संभावनाएं ज्यादा लगती हैं. इसके अलावा उनके पास आराम के लिए भी कई महीने हैं. इस बात को लेकर साहा ने कहा, "ऑस्ट्रेलिया दौरे में अभी काफी समय बाकी है. देखते हैं क्या होता है."

ये भी पढ़ेंः सचिन तेंदुलकर के इस वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ने वाला कहलाएगा 'क्रिकेट का पितामाह'

साहा ने कहा, "आमतौर पर 55 फीसदी मामलों में एक बार ठीक होने के बाद वापस नहीं आती. मैं किस तरह से इस चोट से उबरूंगा यह इस पर निर्भर करता है. मैं जल्दबाजी नहीं करना चाहता मैं अपना समय लेना चाहता हूं. मैं धीरे-धीरे आगे बढ़ना चाहता हूं ताकि यह दोबारा वापस न आए."

First published: 10 August 2018, 8:38 IST
 
अगली कहानी