Home » क्रिकेट » YoYo Test Under Scanner: CoA To Ask BCCI Why Is It Only Fitness Criterion
 

यो-यो टेस्ट को लेकर विवाद शुरू, अब BCCI से पूछा जाएगा ये अहम सवाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 June 2018, 19:04 IST

बीसीसीआई ने टीम इंडिया में जगह बनाने के लिए खिलाड़ियों के लिए यो-यो टेस्ट को अनिवार्य कर दिया है. ये टेस्ट पास करना खिलाड़ियों के लिए टेढ़ी खीर साबित हो रहा है. यो यो टेस्ट पास नहीं कर पाने की वजह से अबांती रायडु इंग्लैंड दौरे पर टीम के साथ नहीं जा पाए.

इंग्लैंड दौरे पर जाने से पहले मुख्य कोच रवि शास्त्री ने भी खिलाड़ियों की फिटनेस के लिए यो-यो टेस्ट काफी अहम बताया था. उन्होंने कहा था कि इस टेस्ट को पास कर के ही टीम में जगह मिल सकती है. अब यह टेस्ट विवादों में आ गया है. इस टेस्ट को लेकर बहस छिड़ गई है. बीसीसीआई का संचालन करने वाले सीओए प्रमुख विनोद राय इसको लेकर बीसीसीआई से सवाल कर सकते हैं.

मीडिया खबरों की माने तो अंबाती रायडु का इंग्लैंडस दौरे से बाहर होने का मसला सीओए प्रमुख विनोद राय के दिमाग में चल रहा है. वह बीसीसीआई से पूछ सकते हैं कि राष्ट्रीय टीम में चयन के लिए यह फिटनेस का एकमात्र मानदंड क्यों है.

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा है कि सीओए प्रमुख इस पूरे मसले से वाकिफ हैं. हालांकि उनकी तरफ से इस बारे में अभी तक किसी तरह का हस्तक्षेप नहीं किया गया है. लेकिन वह इस पूरे मामले की जानकारी क्रिकेट संचालन के प्रमुख सबा करीम से लेने की है.

उन्होंने कहा, ‘राय को रायडू और संजू सैमसन के मामले का पता है. इस पर अभी फैसला नहीं किया गया है, लेकिन वह एनसीए ट्रेनरों से इस खास टेस्ट के बारे में विस्तृत जानकारी देने के लिए कह सकते हैं.’

बता दें कि रायडु ने आईपीएल 11 में शानदार प्रदर्शन किया था. उन्होंने चेन्नई के लिए 602 रन बनाए थे. इसके लिए उनको इंग्लैंड दौरे पर जाने वाली टीम में भी जगह मिल गई थी. लेकिन यो यो टेस्ट पास नहीं कर पाने की वजह से रायडु को टीम से बाहर कर दिया गया. इसके बाद इस टेस्ट को लेकर बहस छिड़ गई.

First published: 24 June 2018, 19:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी