Home » क्रिकेट » Yuvraj Singh recalls conversation with Stuart Broad’s father after hitting him for six sixes
 

युवराज सिंह ने किया खुलासा, मैच के बाद स्टुअर्ट ब्रॉड के पिता आए थे उनके पास, कहा- तुमने खत्म किया मेरे बेटे का करियर

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 April 2020, 19:58 IST
Stuart Broad

भारतीय टीम (India National Cricket Team) ने साल 2007 में पहला टी20 विश्व कप (ICC T20 World Cup 2007) और साल 2011 में 28 साल बाद दूसरी बार एकदिवसीय विश्व कप (World Cup 2011) का खिताब अपने नाम किया था और युवराज सिंह (Yuvraj Singh) इस टीम का हिस्सा थे. जहां साल 2011 में युवराज सिंह मैन ऑफ द टूर्नामेंट रहे थे तो साल 2007 टी20 विश्व कप में उन्होंने विस्फोटक बल्लेबाजी की थी और इंग्लैंड (England Cricket Team) के खिलाफ मुकाबले में तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड (Sturat Broad) की 6 गेंदों पर 6 छक्का कोई भारतीय फैंस नहीं भूल सकता है. वहीं अब युवराज सिंह ने इस बात का खुलासा किया है कि मैच के बाद स्टुअर्ट ब्रॉड के पिता उनके पास आए थे और उन्होंने उनसे कहा था कि तुमने मेरे बेटे का करियर खत्म कर दिया है.

युवराज सिंह ने बीबीसी की पोडकास्ट में कहा,'फ्लिंटॉफ ने मुझसे कुछ कहा और मैंने पलटकर जवाब दिया. इसके बाद मैंने 6 गेंदों पर 6 छक्के लगा दिये मैं खुश इसलिए था क्योंकि इंग्लैंड के ही ऑलराउंडर दिमित्री मैस्कैरनहस ने कुछ मुकाबलों पहले मेरी गेंदों पर 5 छक्के लगाए थे.'


युवराज सिंह ने कहा,'जब मैंने छठा छक्का मारा तो उसके बाद मैंने फ्लिंटॉफ की तरफ देखा और फिर मैस्कैरनहस की तरफ. मैक्सैरनहसन मुझे देखकर मुस्कुरा रहे थे.'

युवराज सिंह ने आगे बताया कि स्टुअर्ट ब्रॉड के पिता क्रिस ब्रॉड जो उस मुकाबले के मैच रेफरी थे वो मैच के बाद उनके पास थे, उन्होंने उनसे कहा,तुमने मेरे बेटे का करियर करीब-करीब खत्म ही कर दिया है, अब आप उसके लिए शर्ट पर साइन कर दें.' युवराज ने इसके बाद कहा,'मैंने स्टुअर्ट ब्रॉड की जर्सी पर संदेश लिखा. मैंने भी लगातार पांच छक्के खाए थे तो मुझे पता है कि आपको कैसा महसूस हो रहा होगा. भविष्य के लिए शुभकामनाएं.'

ये भी पढ़े- चेन्नई सुपर किंग्स के पूर्व खिलाड़ी ने की धोनी की तारीफ, बोले- चुनौतीपूर्ण समय में जिम्मेदारी लेने से नहीं हटते पीछे

First published: 26 April 2020, 19:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी