Home » क्रिकेट » Zaheer Khan said Team Management leaving Rishabh Pant on Double mind
 

क्या ऋषभ पंत का करियर बर्बाद कर रहा है टीम मैनेजमेंट? टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी ने दिए संकेत

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 September 2019, 17:29 IST

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का आगाज 2 अक्टूबर से होना है. इससे पहले दोनों देशों के बीच तीन मैचों की टी20 सीरीज हुई थी. इस सीरीज में अगर किसी खिलाड़ी पर सबकी नजरें थी और किसी खिलाड़ी की सबसे ज्यादा चर्चा हुई तो वो हैं ऋषभ पंत.

विश्व कप के 12वें संस्करण के बाद के टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज का दौरा किया था. इस दौरे पर जाने वाली 15 सदस्यीय टीम का घोषणा करते हुए टीम इंडिया के चीफ सेलेक्टर एम एस के प्रसाद ने साफ किया था कि ऋषभ पंत को आने वाले दिनों में ज्यादा से ज्यादा समय दिए जाएंगे. ऋषभ पंत को धोनी के विकल्प के तौर पर देखा जा रहा है.


 

विश्व कप के 12वें संस्करण के बाद से ही टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एम एस धोनी की संन्यास की अटकलें लगाई जा रही है. हालांकि उन्होंने अभी तक संन्यास का ऐलान नहीं किया है. वहीं बुधवार को आई एक मीडिया रिपोर्ट में इस बात का दावा किया गया कि धोनी चाहतें है कि अगले साल होने वाले टी20 विश्व कप से पहले ऋषभ पंत तैयार हो जाए जिस कारण वो संन्यास नहीं ले रहे है.

ऋषभ पंत एक बेहतर विकेटकीपर के साथ साथ बाए हाथ के बल्लेबाज भी हैं जो टीम इंडिया की नबंर चार की समस्या दूर कर सकते है. टीम इंडिया ने पंत से नंबर चार पर कई बार बल्लेबाजी कराई है लेकिन पंत लगातार मौके को गंवा रहे है. ऋषभ पंत लगातार बड़ा शार्ट खेलने के चक्कर में आउट हो रहे है.

 

टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री के अलाव कप्तान कोहली और बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ भी साफ तौर पर कह चुके है कि पंत को आक्रमक बल्लेबाजी और खराब बल्लेबाजी का अंतर समझना होगा. माना जा रहा है कि ऋषभ पंत को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में जगह नहीं मिलने वाली है. वहीं टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज युवराज सिंह ने साफ तौर पर कहा कि पंत को अभी और मौके दिए जाने की जरूरत है. अब इस कड़ी में पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान का भी नाम जुड़ गया है.

जहीर खान ने इंडिया टूडे के साथ बात करते हुए कहा,'टीम मैनेजमेंट को कोशिश करनी चाहिए कि उनका उपयोग कैसे करना चाहिए, जहां आप उन्हें सबसे अच्छे तरीके से पाते हैं. मुझे लगता है कि उनकी स्वाभाविक शैली पर अटैक करना चाहिए. इसलिए उन्हें सही तरीके से इस्तेमाल करने की जरूरत है. जहां उन्हें डबल माइंट पर नहीं छोड़ा जाना चाहिए. उन्हें एक ही चीज बता दें कि अटैक करे. यही उनके लिए और टीम के लिए अच्छा होगा.'

ऐसा नहीं है कि पंत बल्लेबाजी नहीं कर सकते, लेकिन उनमें धैर्य का काफी कमी है जिस कारण वो अपना विकेट तोहफें में विरोधी टीमों को दे देते है. जहीर खान ने इस पर कहा,'हर कोई जानता है कि इस खिलाड़ी में क्या क्षमता है. मुझे लगता है कि हर किसी को कोशिश करनी होगी की उनके लिए चीजों को आसान बनाए.'

जहीर खान के बयान से ऐसा लगता है कि टीम मैनजमेंट पंत को यह बता ही नहीं पा रहा है कि आखिर उनका टीम में रोल किया है. पंत को लगातार दुविधा में छोड़ा जा रहा है.

भारतीय टीम के इस बल्लेबाज के कारण संन्यास नहीं ले रहे धोनी, हुआ बड़ा खुलासा

First published: 25 September 2019, 17:12 IST
 
अगली कहानी