Home » क्राइम न्यूज़ » father-son death after police custody in Tuticorin, Tamil Nadu
 

तमिलनाडु के तूतीकोरिन में पुलिस हिरासत के बाद पिता-पुत्र की मौत, पुलिस पर लगे सनसनीखेज आरोप

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 June 2020, 12:33 IST

तमिलनाडु के तूतीकोरिन में पुलिस हिरासत में पिटाई के बाद एक पिता-पुत्र की मौत पर हंगामा बढ़ता जा रहा है. मृतकों के परिजनों का आरोप है कि उनके शरीर पर चोटों के निशान थे, पुलिस ने हिरसत में उनकी जमकर पिटाई की थी. परिवार ने पुलिसकर्मियों पर हत्या का मामला दर्ज करने की अपील की है.

पी. जयराज (62) और उनके बेटे जे बेनिक्स (32) वर्ष की मृत्यु पर आक्रोश और विरोध प्रदर्शन के बाद चार पुलिस अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है जबकि एक इंस्पेक्टर का तबादला कर दिया गया है. मद्रास हाईकोर्ट ने पुलिस से इस घटना की रिपोर्ट मांगी है.


बुधवार को तमिलनाडु ट्रेडर्स एसोसिएशन ने राज्य भर में दुकानें बंद रखी. शक्तिशाली नादर व्यापारी समुदाय से संबंध रखने वाले जयराज और उनके बेटे के खिलाफ पुलिस ने तब कार्रवाई की थी जब 19 जून की शाम को उन्होंने शाम 7 बजे की समय सीमा के बाद भी अपनी मोबाइल दुकान खुली रखी थी. दोनों अस्पताल में मौत हो गई थी.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार तमिलनाडु के विपक्षी दल डीएमके ने इस घटना पर एआईएडीएमके सरकार को आड़े हाथों लिया है. डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन ने कहा "कथित तौर पर पुलिस द्वारा दो लोगों को जो यातना दी गई है ये राज्य सरकार द्वारा पुलिस को अपने हाथ में कानून लेने दिए जाने का नतीजा है."

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार एक गश्ती दल द्वारा जयराज को एक स्थानीय पुलिस स्टेशन में ले जाने के बाद, बेनिक्स एक दोस्त के साथ वहां पहुंचा और उसे भी हिरासत में ले लिया गया. दो दिन बाद दोनों की मौत हो गई. एक प्रारंभिक पुलिस जांच में उनके निजी अंगों में गंभीर चोटें पाई गईं हैं.

बेनिक्स के एक रिश्तेदार विनोद कुमार ने बताया कि पुलिस स्टेशन जाने के दौरान, बेनिक्स ने अपनी एक बहन को फोन किया था लेकिन उसने नहीं उठाया. फिर उसने दूसरी बहन को फोन किया और बताया कि वह अपने पिता को देखने पुलिस स्टेशन जा रहा है.

राजस्थान के कोटा में जूस सेंटर से फैला कोरोना, जूस पीकर 9 लोग हुए कोविड-19 संक्रमित

First published: 27 June 2020, 12:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी