Home » क्राइम न्यूज़ » Maharashtra Teacher Allegedly forces three girls to watch porn in his cabin, booked under POCSO
 

शिक्षक की काली करतूत, छात्राओं को जबरन दिखाया अश्लील वीडियो, POCSO एक्ट में दर्ज हुआ केस

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 February 2020, 18:52 IST

Teacher Allegedly forces three girls to watch porn in his cabin: महाराष्ट्र के औरंगाबाद में आठवीं कक्षा की तीन लड़कियों को कथित तौर पर पोर्न दिखाने के मामले में एक स्कूल शिक्षक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. आरोप है कि जिस शिक्षक के ऊपर यह आरोप लगे हैं उसने 6 जनवरी को अपने केबिन में इन तीनों बच्चियों को पोर्न दिखाई है.

खबर के मुताबिक, इन तीनों लड़कियों में से एक बच्ची के परिवार वालों चुप्पी तोड़ते हुए पुलिस की दामिनी दस्ते को एक पत्र दिया और इस मामले की जानकारी पुलिस की दी है.

खबरों के अनुसार, बीते सप्ताह पुलिस ने इस स्कूल का दौरा किया था और पुलिस ने अपनी प्रारंभिक जांच में छात्राओं के बयान दर्ज किए है. द टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार,  जांच अधिकारी अश्लेषा पाटिल ने कहा कि शुरू में आरोपी शिक्षक के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया गया था क्योंकि माता-पिता आगे आने और इसके बारे में बोलने के लिए तैयार नहीं थे.

हालाँकि, कुछ ही समय में इस घटना के बारे में स्कूल के परिसर में सभी के बीच बात फैल गई और पुलिस ने आरोपी शिक्षक के खिलाफ यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (POCSO) अधिनियम,  2012 के प्रावधानों के तहत मुकदमा दर्ज किया है. इसके साथ ही  आरोपी शिक्षक पर भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 354 डी के तहत भी मामला दर्ज किया गया है.

खबरों की मानें तो आरोपी शिक्षक ने तीनों नाबालिग पीड़ितों को अपने मोबाइल फोन पर एक अश्लील वीडियो दिखाया था और उन्होंने धमकी दी थी कि अगर उन्होंने इस बारे में किसी से कुछ कहा तो उन्हें इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे. हालांकि, नाबालिग लड़कियों ने अपने परिवार के सदस्यों और कुछ शिक्षकों से घटना के बारे में बात की. वहीं स्कूल ने बुधवार को आरोपी शिक्षक को नौकरी ले निकाल देने का दावा किया है.

पश्चिम बंगाल: ममता राज में महिलाओं से दरिंदगी, TMC नेता ने रस्सी से बांधकर सड़क पर खिंचवाया

First published: 5 February 2020, 18:42 IST
 
अगली कहानी