Home » क्राइम न्यूज़ » Unnao: Attemp to burn gangrape victim alive, Yogi government claims crime graph reduced
 

यूपी: पहले गैंगरेप फिर पीड़िता को जिन्दा जलाने का प्रयास, योगी सरकार का दावा- क्राइम ग्राफ घटा

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 December 2019, 11:52 IST

उत्तर प्रदेश के उन्नाव(Unnao) से भी हैदराबाद गैंगरेप(Hyderabad Gangrape) और मर्डर जैसा घृणित मामला सामने आया है. जहां एक युवती का पहले गैंगरेप किया गया, बाद में उसे जिंदा जलाने का प्रयास किया गया. दूसरी तरफ राज्य की योगी सरकार(Yogi Government) का दावा है कि यूपी में क्राइम ग्राफ(Crime Graph) घटा है. योगी सरकार का दावा है कि सपा सरकार की तुलना में भाजपा सरकार में करीब 5,000 मामले कम हुए हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यूपी के उन्नाव में कुछ दिन पहले एक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ था. मामले में दो नामजद आरोपियों को गिरफ्तार किया गया और उन्हें जेल भेज दिया गया था. इसी सिलसिले में पीड़िता आज रायबरेली जा रही थी. सुबह चार बजे घर से निकलने के बाद गांव के बाहर खेत में कुछ लोगों ने युवती को जिंदा जलाने का प्रयास किया.

मामले में पुलिस ने अब तक चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार पाण्डेय ने बताया, "यह घटना बिहार थानाक्षेत्र के हिन्दूनगर की है. मुकदमे के सिलसिले में पीड़िता आज वकील से मिलने रायबरेली जा रही थी. इस दौरान कुछ लोगों ने युवती को जिंदा जलाने का प्रयास किया. मौके पर पुलिस ने पहुंचकर पीड़िता को तत्काल अस्पताल पहुंचाया."

दूसरी तरफ योगी सरकार ने एक रिपोर्ट जारी की है. सरकार द्वारा जारी आंकड़ों में कहा गया है कि सपा सरकार रहने के दौरान साल 2016 में हत्या, डकैती, लूट, दुष्कर्म और दहेज-हत्या के 14,980 मामले दर्ज किए गए थे. वहीं, योगी सरकार में जनवरी से लेकर 15 नवंबर, 2019 तक सिर्फ 10,064 मामले ही दर्ज हुए.

योगी सरकार ने दावा किया कि स पा सरकार की तुलना में बीजेपी सरकार में करीब 5,000 मामले कम हुए. आंकड़ों में बताया गया कि 2016 में जनवरी से दिसंबर के बीच 4,679 हत्याएं हुईं, दूसरी तरफ योगी सरकार में आकड़ा घटकर 3,294 रह गया. आंकड़ों में बताया गया कि योगी सरकार में साल-दर साल अपराध घटे हैं.

महाराष्ट्र: शिवसेना को लगा बड़ा झटका, 400 से ज्यादा नेता BJP में हुए शामिल

कर्नाटक उपचुनाव: 15 विधानसभा सीटों पर मतदान शुरू, BJP के लिए करो या मरो की स्थिति

First published: 5 December 2019, 11:52 IST
 
अगली कहानी