Home » क्राइम न्यूज़ » UP: Dalit man beaten and tried to burn by Kerosene oil in mathura
 

मथुरा में दलित युवक को भगा-भगा कर पीटा फिर केरोसीन से नहलाकर लगाई आग

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 August 2018, 7:53 IST
(प्रतीकात्मक तस्वीर )

उत्तर प्रदेश के मथुरा में एक दलित युवक को आग के हवाले कर दिया गया. पुलिस के अनुसार घायल का नाम परदेसी बताया जा रहा है. पुलिस ने बताया की देर रात दो लोगों ने परदेसी पर हमला कर लिया. इससे पहले की वो कुछ समझ पाता उस पर दोनों ने जबरन मिटटी का तेल उड़ेल दिया.

खुद को बचाने की कोशिश में वो भागा लेकिन पीछे से दौड़ कर उन लोगों ने उस पर हमला बोल दिया और आग लगा दी. पुलिस अधीक्षक विनय सींग चौहान के अनुसार मथुरा के सतोहा गांव में ये हादसा हुआ. घायल युवक की चीखे सुन कर आस पास के लोग इकट्ठा हो गए और उसे अस्पताल पहुंचाया गया.

ये भी पढ़ें- योगी आदित्यनाथ से वर्दी पहनकर पुलिस अधिकारी ने गुरूपूर्णिमा के दिन लिया आशीर्वाद, विवाद शुरू

इस मामले में अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है. हालांकि पुलिस का कहना है कि उन दो अज्ञात हमलावरों की तलाश जारी है. और जल्दी ही इस मामले में उन्हें पकड़ लिया जाएगा.

ये भी पढ़ें- सरकारी बंगले में तोड़फोड़ पर अखिलेश यादव से योगी सरकार वसूलेगी 10 लाख जुर्माना !

गौरतलब है कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब कानून हाथ में लिया गया हो. इससे पहले भी पूरे देश से भीड़ के हिंसक हो जाने की खबरें आती रहती हैं. मामला चाहे आपसी रंजिश का हो, किसी विशेष समुदाय या जाती के प्रति नफरत का हो. भीड़ का इस तरह से हिंसक हो जाना राज्य की कानून व्यवस्था पर सवालिया निशाँ खड़ा करता है.

ये भी पढ़ें- दूसरी जाति के लड़के से शादी करना चाहती थी बेटी, पिता ने किया जल्लाद वाला काम

आखिर भीड़ में जो भी दो, चार, पांच या दस लोग होते हैं उनमे कानून को हाथ में लेने की ये हिम्मत कहा से आती है? क्यों उनमे से पुलिस या कानून का भय समाप्त होता जा रहा है. ये राज्य और समाज दोनों के लिए गहन चिंता का विषय है.

First published: 4 August 2018, 7:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी