Home » कल्चर » chaitra navratri 2021 after nine years this time auspicious combination of five planets
 

chaitra navratri 2021 : इन पांच ग्रहों का रामनवमी पर बन रहा है गजब का संयोग

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 April 2021, 11:01 IST
फाइल फोटो (सोशल मीडिया)

chaitra navratri 2021 : भगवान श्रीराम का जन्मोत्सव 21 अप्रैल बुधवार को श्रद्धा और उल्लास से मनाया जाएगा. नौ सालों के बाद इस बार रामनवमी पर पांच ग्रहों का शुभ संयोग बन रहा है. यह संयोग इस पर्व की शुभता में कई गुना वृद्धि करेगा. कहा जा रहा है कि ऐसी स्थिति 2013 में बनी थी.

कहा जा रहा है कि इस बार 21 अप्रैल को नवमी शाम 7 बजे तक मनाई जाएगी. अश्लेषा नक्षत्र रात 3:15 बजे तक और राम जन्म के वक्त सूल योग रहेगा. राम नवमी को दोपहर 12 बजे के बाद कर्क राशि में हुआ था. इश बार यह संयोग सुबह 11.05 से दोपहर एक बदे के बीच रहेगा. इसके साथ ही लग्न में स्वग्रही चंद्रमा, सप्तम भाव में स्वग्रही शनि और दशम भाव में सूर्य बुध और शुक्र के साथ रहेंगे.


पूजा करने की विधि-
नवमी तिथि के दिन सुबह सूर्योदय से पहले स्नान आदि करके पूजा स्थल पर प्रभु श्रीराम की मूर्ति या तस्वीर को रखें. इसके बाद भगवान श्रीराम का अक्षत, रोली, चंदन, धूप आदि से पूजन करें. इसके बाद उनको तुलसी का पत्ता और कमल का फूल अर्पित करें, फल और मिठाई का भी भोग लगाएं. आरती करें और सभी लोगों को प्रसाद का वितरण करें. आप चाहें तो इस दिन रामायण का पाठ और रामरक्षा स्त्रोत का भी पाठ कर सकते हैं.

तिथि और शुभ मुहूर्त

राम नवमी तिथि- 21 अप्रैल 2021, बुधवार
नवमी तिथि प्रारंभ- 21 अप्रैल 2021 को रात में 12:43 बजे से 
नवमी समाप्त- 22 अप्रैल 2021 को रात 12:35 बजे तक
रामनवमी पूजा का शुभ मुहूर्त- 21 अप्रैल बुधवार को सुबह 11:02 से लेकर दोपहर में 1:38 बजे तक
अवधि- 2 घंटे 36 मिनट

'द बिग बुल' आज होगी रिलीज़, इतने बजे यहां देख पाएंगे ऑनलाइन

महेंद्र सिंह धोनी प्रड्यूस कर रहे हैं ऐनिमेटेड सीरीज, करेंगे जासूसी

First published: 9 April 2021, 11:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी