Home » कल्चर » chitragupta puja 2020 date muhurat puja vidhi mantra and significance
 

Chitragupta Puja 2020: आज है चित्रगुप्त पूजा, इस विधि से करें पूजन

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 November 2020, 13:55 IST

Chitragupta Puja 2020: कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि के दिन चित्रगुप्त पूजा मनाई जाती है. इस दिन कलम दवात की पूजा करने का भी विधान है. इसी के साथ इस दिन यम द्वितीया या भाई दूज भी मनाया जाता है. कायस्थ या व्यापारी वर्ग के लिए चित्रगुप्त पूजा दिन से ही नववर्ष का अगाज माना जाता है.

भाई दूज 16 नवंबर को सुबह 07:06 से शुरू हो रहा है. जो 17 नवंबर को भोर 03:56 बजे तक है. ऐसे में आज यानि 16 नवंबर को ही आप चित्रगुप्त पूजा करें. सर्वार्थ सिद्धि योग सुबह 06: 45 से दोपहर 02:36 तक है. विजय मुहूर्त दोपहर 01:53 बजे से दोपहर 12:27 बजे तक है. आप इन मुहूर्त में चित्रगुप्त पूजा कर सकते हैं.


दिग्गज एक्टर सौमित्र चटर्जी का निधन, कोरोना वायरस के बाद कई बीमारियों से थे ग्रसित

पौराणिक कथाओं के मुताबिक, सृष्टि के रचानाकार ब्रह्मा जी ने चित्रगुप्त जी को उत्पन्न किया था. उनकी काया से उत्पन्न होने कारण चित्रगुप्त जी कायस्थ भी कहे जाते हैं. उनका विवाह यमी से हुआ है, इस वजह से वो यम के बहनोई भी कहे जाते हैं. यम और यमी सूर्य देवह की जुड़वा संतान हैं. यमी ही बाद में यमुना के स्वरुप में पृथ्वी पर आ गई.

ये है पूजा विधि-
भाई दूज के दिन एक चौकी पर चित्रगुप्त महाराज की तस्वीर तो स्थापित करें. इस दिन अक्षत, फूल, मिठाई, फल आदि चढ़ा दें. एक नई कलम उनको अर्पित करें तथा कलम-दवात की पूजा करें. इसके बाद सफेद कागज पर श्री गणेशाय नम: और 11 बार ओम चित्रगुप्ताय नम: लिख लें. अब चित्रगुप्त जी से विद्या, बुद्धि तथा लेखन का अशीर्वाद लें.

राहुल वैद्य के सलमान खान ने लिए मजे, बोले- थाईलैंड में हैं दिशा

First published: 16 November 2020, 13:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी