Home » कल्चर » Dhanteras 2019 Don't buy these thing on dhanteras it will be unlucky for prosperity and wealth
 

धनतेरस पर भूल से भी ना खरीदें ये चीज, शुरु हो जाएगी घर की बर्बादी

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 October 2019, 16:10 IST

हमारा देश तीज त्योहारों का देश है. जहां हर त्योहार पर लोग घर की साफ-सफाई के साथ-साथ कुछ ना कुछ खरीदना शुभ समझते हैं. इन्हीं में से एक है धनतेरस का त्योहार, जिसे दिवाली से दो दिन पहले मनाया जाता है. इस दिन को खरीददारी के लिए पूरे साल के दिनों सबसे अधिक शुभ माना जाता है. ऐसा माना जाता है कि इस दिन खरीददारी करने से घर में लक्ष्मी का वास होता है और घर की सुख-समृद्धि की आना शुरु हो जाती है. लेकिन धनतेरस पर खरीददारी के दौरान हम ये भूल जाते हैं कि कौन सी चीज या वस्तु शुभ फल देने वाली होती है और कौन सी अशुभ.

धनतेरस के दिन सोना, चांदी और बर्तन खरीदना शुभ माना जाता है. ऐसा माना जाता है इस दिन ये सामान खरीदने से पूरे साल संपन्नता बनी रहती है. इस बार धनतेरस का त्योहार 25 अक्टूबर शुक्रवार को मनाया जाएगा. इस दिन कुछ सामान खरीदना धन संपदा में इजाफा होने के लिए शुभ माना जाता है. धनतेरस के दिन सोना-चांदी खरीदना शुभ माना जाता है. ज्योतिषाचार्य मानते हैं कि धनतेरस के दिन कुछ चीजों को बिल्कुल भी नहीं खरीदना चाहिए. अगर आप इन चीजों को खरीदते हैं तो मां लक्ष्मी नाराज हो जाती हैं.

ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक, धनतेरस के दिन भूलकर भी लोहे की बनी कोई भी चीज नहीं खरीदनी चाहिए. धनतेरस के दिन लोहा खरीदना बहुत अशुभ माना जाता है, इसलिए इस दिन चाकू, कैंची और दूसरे धारदार हथियारों को भूलकर भी ना खरीदें. ऐसा माना जाता है कि इससे आपके जीवन पर नकारात्मक असर पड़ता है. धनतेरस के दिन कांच या फिर कांच की बनी चीजें भी नहीं खरीदनी चाहिए. कांच का संबंध राहु से है और राहु नीच ग्रह माना जाता है. इसलिए धनतेरस के दिन ग्रह-नक्षत्रों को सही रखने के लिए कांच से बनी चीजें ना खरीदें.

धनतेरस के शुभ दिन एल्युमिनियम का बर्तन भी खरीदना अशुभ माना जाता है. इसका संबंध भी राहु से है यही कारण कि एल्युमिनियम का प्रयोग पूजा-पाठ में नहीं किया जाता. धनतेरस के दिन कोई भी काले रंग की चीज भी नहीं खरीदना चाहिए. काला रंग दुर्भाग्य का प्रतीक माना जाता है. धनतेरस के दिन तेल, रिफाइंड, घी इत्यादी तैलीय चीजों को भी खरीदना अशुभ माना जाता है.

महात्मा गांधी जयंती: जब मॉब लिंचिंग का शिकार होने से बचे थे महात्मा गांधी!

First published: 12 October 2019, 16:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी