Home » कल्चर » Dhanteras 2020: do this if you are buying utensils on dhanteras
 

Dhanteras 2020 : धनतेरस के दिन कर रहे हैं बर्तनों की खरीददारी, तो घर आकर जरूर करें ये काम

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 November 2020, 20:07 IST

धन की देवी लक्ष्मी और कुबेर की पूजा का दिन धनतेरस माना जाता है. इस दिन खरीददारी करना शुभ माना जाता है. इस बार धनतेरस 12 नवंबर को शाम 5 बजे लग रही है. इसलिए उदया तिथि के मुताबिक धनतेरस 13 की और शाम को लगने के कारण 12 नवंबर दोनों दिन मनाई जाती है. इसलिए आप 12 और 13 दोनों दिन खरीददारी कर सकते हैं.

इस दिन शाम को मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है. धनतेरस के दिन हल्दी की गाठ खरीदना भी शुभ माना जाता है. इसके अलावा झाड़ू खरीदना भी शुभ माना जाता है.इस दिन धनिया के बीज, सोना-चांदी धातु के बर्तन खासकर पीतल के बर्तन खरीदना शुभ होता है. कहा जाता है कि धनिया धन में वृद्धि का संकेत देता है.


 

धनतेरस के दिन धनिया मां लक्ष्मी को अर्पित करनी चाहिए. इसके कुछ दाने गमले में भी बो देने चाहिए. कहा जाता है कि धनिया के पौधे निकलने हैं तो ये पूरी साल आपके घर में खुशियां बनी रहती हैं. शास्त्रों के मुताबिक अन्न में चावल यानी कि अक्षत को सबसे शुभ माना जाता है. अक्षत का अर्थ होता है धन संपत्ति में अनंत वृद्धि.

धनतेरस के दिन धान और चावल खरीदकर लाने से आपके धन, वैभव और ऐश्वर्य में अनंत वृद्धि होती है.कहा जाता है कि अगर इस दिन आप बर्तन खरीद कर लाते हैं तो उसे खाली नहीं रखना चाहिए. पूजा से पहले इसमें जलभरकर रखना चाहिए. मान्यता है कि देवी लक्ष्मी की तरह ही भगवान धन्वंतरि भी समुद्र मंथन से उतपन्न हुए थे. भगवान धन्वंतरि के हाथ में अमृत कलश था, इसलिए इस दिन कलश खरीदने की परंपरा है. इस दिन खरीदे गए बर्तन में मिठाई भी रख सकते हैं.

Dhanteras-2020: जानिए क्यों दक्षिण दिशा में दीपक जलाना धनतेरस के दिन माना जाता है शुभ, ये है इसका महत्व

First published: 13 November 2020, 20:01 IST
 
अगली कहानी