Home » कल्चर » Four signs that tells you should break up your relationship with partner
 

चार वजह जब कर लेना चाहिए पार्टनर के साथ ब्रेकअप

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 27 December 2016, 20:09 IST

यूं तो रिलेशनशिप की शुरुआत में ज्यादातर यही सोचते हैं कि उन्हें अपने सपनों का साथी मिल गया. लेकिन बाद में लगता है कि वह सपनो का साथी, हमदम नहीं बल्कि एक साथी ही है. कई बार जब दोनों लंबे वक्त तक साथ रहते हैं तो यह पहचान करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है.

वैसे आप भी अपने दोस्तों के रिश्ते को देखकर यह आसानी से भांप लेते होंगे कि उनमें कुछ दम नहीं बचा या फिर उनके रिलेशनशिप की एक्सपाइरी डेट निकल चुकी है. लेकिन जब मामला खुद के रिश्ते के बारे में जानने का आ जाता है, यह तय करना बहुत मुश्किल हो जाता है. 

'न्यू ईयर रिजोल्यूशन' पूरा करना चाहते हैं तो अभी से अपनाएं यह तरीका

लोग अपने खुद के रिश्तों में इस कदर उलझ चुके होते हैं कि इस हकीकत से रूबरू नहीं हो पाते कि उन्हें अपने रिश्ते से जो खुशी मिलनी चाहिए, उसकी जगह दुख ज्यादा मिल रहा है. ऐसे में आप कैसे पता करेंगे कि आपके रिश्ते को खत्म करने का समय आ गया है यानी अपने पार्टनर से ब्रेक अप कर लेना चाहिए. 

ब्रैवो टीवी पर इस बात का खुलासा करने वाले चार थेरेपिस्ट वो चार वजह बताते हैं, जिनके होने पर रिश्तों की लंबी राह रेड लाइट दिखा रही होती है.

1. आपका पार्टनर हमेशा आपको दोष देता है

क्लीनिकल प्रोफेशनल काउंसलर जूलिएने डेरिस्च की मानें तो शायद ही कभी ऐसा होता हो कि केवल एक व्यक्ति की ही वजह से रिश्ता प्रभावित होता है. हमेशा ताली दोनों हाथों से बजती है और दोष एक का ही नहीं होता.

वे कहती हैं, "रिश्ते का अंत तब आ जाता है जब आपका ब्वॉयफ्रेंड या गर्लफ्रेंड आपके साथ किसी समस्या का समाधान नहीं करना चाहता और सभी समस्याओं का दोष आप पर ही मढ़ता है."

जानिए क्या हैं महिलाओं के बारे में पुरुषों की सबसे गलत धारणाएं

जान लें कि रिश्तों को बरकरार रखने का सबसे बेहतरीन तरीका है कि परेशानियां आने पर दोनों लोग एक साथ बैठकर इसे सुलझाएं और दोनों चाहते भी हों उनके बीच की समस्याएं सुलझें.

2. ऐसा लगे कि अब और बेहतर नहीं हो सकता

ऐसे जोड़े जो हमेशा खुश रहते हों, दिखना अपवाद जैसा है. झगड़े, बहस और बुरा वक्त हर रिश्ते में आना सामान्य बात है लेकिन अगर आपको इन सबका समाधान नजर नहीं आता या आपको यह कभी खत्म होने वाले नहीं दिखते, तो इन्हें रोककर आगे बढ़ने का वक्त आ चुका है.

हेल्थ एंड वेलनेस एक्सपर्ट और थेरेपिस्ट जेन्नी गिबलिन कहती हैं, "आपका रिश्ता खत्म होने के कगार पर पहुंच चुका है, जानने का सबसे अच्छा तरीका है कि अगर आपको यह और बेहतर होता नजर नहीं आता."

चुंबन का विज्ञान: ज्यादा कमाना और ज्यादा जीना चाहते हैं तो ऐसे किस करें

हालांकि यह नाउम्मीद होने की भावना से अलग होता है, के बारे में बताते हुए वो कहती हैं, "अगर आप चीजों के बदलने का इंतजार करते हुए फंस गए हैं और कुछ भी नहीं बदला, और आप खुद को यह मानते हुए पाते हैं कि आपकी रिलेशनशिप अब केवल ऐसी ही है और इसे सुलझाना पड़ेगा, तो यहां पर केवल एक ही बात आपको समझनी होगी कि आप रिश्ते के अंत पर पहुंच गए हैं."

3. आप दूसरों को पसंद करते हैं

अगर आप सही व्यक्ति के साथ होते तो आप किसी समारोह में नजर आए स्मार्ट मर्द या सुबह सैर के वक्त दिखी खूबसूरत लड़की के बारे में नहीं सोच रहे होते. 

काउंसलर जोनाथन बेनेट कहते हैं, "अगर आप लगातार खुद के लिए बेहतर विकल्पों (अपने योग्य दूसरे साथियों) के बारे में सोच रहे हैं तो आपका रिश्ता उतना मजबूत नहीं है जितना आप सोचते हैं."

इंसानों की आम फितरत में शामिल है 'जलन'

4. आपका साथी अब 'सपनो का साथी' नहीं लगता

कभी-कभार यह आपकी अंतर आत्मा को सुनने वाला मामला हो सकता है. अगर आपके साथी को अब ऐसा नहीं लगता कि आप वो व्यक्ति नहीं हैं जिसके साथ उसने पूरी जिंदगी बिताने के बारे में सोचा था, तो वो खुद ही ऐसा व्यक्ति नहीं है.

एक उदाहरण देते हुए रिलेशनशिप थेरेपिस्ट रोह्नडा मिलरैड कहते हैं, "अगर आपके साथी को ऐसा नहीं लगता है कि आप वो 'सच्चे साथी' नहीं हो, तो कुछ और मामला है. आप ज्यादा प्यार पाने और नजदीक जाने की कोशिश करते हैं और लगता है कि आप वो हासिल नहीं कर पा रहे."

शादी के बाद महिलाएं क्यों लगाती हैं पति का सरनेम?

समाज हमें सिखाता है कि हम कारण की खोज करें लेकिन ज्यादातर लोग जितना सोचते हैं उससे कहीं ज्यादा प्रभावी और मजबूत अंतर आत्मा की आवाज होती है, और यह बहुत जरूरी है कि इसे नजरअंदाज न किया जाए.

ऐसे में अगर ऊपर दिए गए चार में से कोई भी वजह आपको अपने रिश्ते में भी नजर आती है, तो यह बताते हुए काफी खेद हो रहा है कि आपका रिश्ता खत्म होने की कगार पर पहुंच चुका है, जिसके आगे बढ़ने की कोई गुंजाइश नजर नहीं आती.

First published: 27 December 2016, 20:09 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियों-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

पिछली कहानी
अगली कहानी