Home » कल्चर » Google Doodle Is A Tribute To Savitribai Phule
 

देश की पहली महिला टीचर की याद में गूगल ने बनाया डूडल

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 January 2017, 15:38 IST
(google)

आज देश की पहली महिला शिक्षक और सामाजिक क्रांति की पुरोधा सावित्रीबाई ज्‍योतिराव फुले का जन्मदिन है. गूगल डूडल के जरिए सावित्रीबाई फुले को याद कर रहा है. सावित्रीबाई को देश के वंचित तबकों और खासकर महिलाओं की शिक्षा के लिए आवाज़ उठाने के लिए याद किया जाता है. जानें उनके बारे में...  

1. इनका जन्‍म 3 जनवरी, 1831 में दलित परिवार में हुआ था.

2. 1840 में 9 साल की उम्र में सावित्रीबाई की शादी 13 साल के ज्‍योतिराव फुले से हुई. 

3. सावित्रीबाई फुले ने अपने पति क्रांतिकारी नेता ज्योतिराव फुले के साथ मिलकर लड़कियों के लिए 18 स्कूल खोले. उन्‍होंने पहला और अठारहवां स्कूल भी पुणे में ही खोला. 

4. सावित्रीबाई फुले देश की पहली महिला अध्यापक-नारी मुक्ति आंदोलन की पहली नेता थीं. उन्‍होंने 28 जनवरी 1853 को गर्भवती बलात्‍कार पीडि़तों के लिए बाल हत्‍या प्रतिबंधक गृह की स्‍थापना की.

5. सावित्रीबाई ने उन्नीसवीं सदी में छुआ-छूत, सतीप्रथा, बाल-विवाह और विधवा विवाह निषेध जैसी कुरीतियां के विरुद्ध अपने पति के साथ मिलकर काम किया. 

6. महात्मा ज्योतिबा फुले की मृत्यु सन् 1890 में हुई. तब सावित्रीबाई ने उनके अधूरे कार्यों को पूरा करने के लिये संकल्प लिया.

7. सावित्रीबाई की मृत्यु 10 मार्च 1897 को प्लेग के मरीजों की देखभाल करने के दौरान हुई. 

First published: 3 January 2017, 15:38 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी