Home » कल्चर » Hariyali Teej Vrat 2020: Why is it important to take care of these special things on greenery Teej
 

Hariyali Teej Vrat 2020: हरियाली तीज पर इन खास बातों का ध्यान रखना क्यों है जरूरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 July 2020, 15:05 IST

Hariyali Teej Vrat 2020: कल 23 जुलाई 2020 यानी गुरुवार को हरियाली तीज पूरे देश में मनाई जाएगी. यह सावन माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है. हरियाली तीज पर सुहागन महिलाएं श्रृंगार करके माता पार्वती की पूजा करती हैं. ऐसा माना जाता है कि इस पूजा से सुहागन महिलाओं को अखंड सौभाग्य का आशीर्वाद प्राप्त होता है. इस दिन अक्सर महिलाओं को एक जगह इकट्ठा होकर मेंहदी लगाते देखा जाता है. इस दिन लोकगीत गाने और झूला झूलने का भी चलन है.

कई जगह महिलाओं के मायके से श्रृंगार का सामान भी भेजा जाता है. इस दिन व्रत पर सुहागन महिलाओं को कई बातों का ध्यान रखना होता है. शाम के वक्त सुहागन महिलाएं 16 श्रृंगार करके माता पार्वती एवं भगवान शिव की आराधना करती हैं. हरियाली तीज को देश के कुछ क्षेत्रों में मधुश्रवा तीज के नाम से भी जाना जाता है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस पर्व को मां पार्वती और शिव के मिलन की याद में मनाया जाता है.


हरियाली तीज के दिन महिलाएं मां पार्वती की पूजा करती हैं. साथ ही नव विवाहिताएं अपने मायके आकर इस त्योहार को मनाती हैं. महिलाएं इस दिन व्रत रखती है और विशेष श्रंगार करती हैं. वहीं राजस्थान में महिलाएं हरियाली तीज के मौके पर लहरिया नाम की एक विशेष ओढ़नी पहनती हैं. इस दिन घरों में कई  खासविशेष पकवान भी बनाए जाते हैं.

 

इन खास बातों का रखा जाता है ध्यान

हरियाली तीज पर सुहागन महिलाएं द्वारा हरी चूड़ियां पहनने का चलन है. ऐसा माना जाता है कि इसे उनके पति लंबी उम्र, सेहतमंद और खुशहाल होने का प्रतीक के रूप में देखा जाता है. हरियाली तीज पर मायके से बेटी को साड़ी, श्रृंगार सामग्री, मिठाई, फल आदि भेजा जाना शुभ माना जाता है. इस व्रत के दौरान महिलाएं पानी नहीं पीती हैं.

Hariyali Teej 2020: सुहागिनों के लिए बेहद महत्वपूर्ण है हरियाली तीज का त्यौहार, पर्व मनाने की ये है वजह

इस व्रत के दौरान तीज की व्रत कथा सुनी जाती है. व्रत के दौरान सफेद और काले कपडे पहनना अच्छा नहीं माना जाता है. तीज व्रत पर माता यानी माता पार्वती के गाने, कथा, कहानियां सुनने चाहिए. हिन्दू धर्म के अनुसार व्यक्ति को मन, कर्म और वचन से शुद्ध होना चाहिए.

Hariyali Teej 2020: हरियाली तीज के मौके पर मां पार्वती को ऐसे करें प्रसन्न, हर कामना होगी पूरी

First published: 22 July 2020, 15:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी