Home » कल्चर » Hindu caste system has created false lineage for Muslims Javed Akhtar
 

'भारत में धर्म बदलकर 90 फीसदी ग़ैर-मुस्लिम बने हैं मुसलमान'

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 January 2017, 13:42 IST

शायर एवं फिल्म गीतकार जावेद अख्तर ने इस्लाम और मुसलमानों के बारे में पूर्वाग्रहों से संबंधित एक सत्र में बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि हिंदू जाति व्यवस्था ने देश के मुसलमानों को एक भ्रामक वंशावली को अपनाने पर मजबूर किया है. 

जावेद साहब ने कहा कि आप किसी आम मुसलमान से पूछिए कि आपकी वंशावली क्या है. वह कहेगा कि उसके पुरखे इराक के बसरा में फल बेचते थे. या यह कि वे अफगानिस्तान से आना (भारत) चाहते थे लेकिन खैबर दर्रे पर रुक गए. फिर उनसे पूछिए कि आखिर क्यों रुक गए. 

जावेद अख्तर ने कहा, "ऐसा हिंदू जाति व्यवस्था के कारण हुआ. अगर वह स्वीकार कर लें कि उसके दादा ने पंजाब में धर्म परिवर्तन किया था जोकि उन्होंने किया था (हिंदू से मुसलमान बने थे) तो फिर वे (हिंदू) पूछेंगे कि तुम्हारे दादा धर्म परिवर्तन से पहले क्या थे. यह हिंदू जाति व्यवस्था है जिसने उसे (भारतीय मुसलमान) को झूठी वंशावली अपनाने पर बाध्य किया है." 

खुद को नास्तिक बताने वाले जावेद अख्तर ने कहा कि भारत में 90 फीसदी मुसलमान यहीं के हैं और धर्म बदलकर मुसलमान बने हैं. उन्होंने कहा, "वे कहते हैं कि तुम हमलावर हो. तुम बाहर से आए हो. वे कहते हैं कि तुम गजनी से आए हो. जबकि सच यह है कि वे बाहर से नहीं आए हैं.. सच यह है कि 90 फीसदी मुसलमान धर्म परिवर्तन कर मुसलमान बने हैं, लेकिन उन्हें बाहरी करार दे दिया जाता है और फिर वे भी कहते हैं कि हां, हम बाहरी हैं."

First published: 28 January 2017, 13:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी