Home » कल्चर » Hindustani classical vocalist Kishori Amonkar passes away
 

विख्यात शास्त्रीय संगीत गायिका किशोरी अमोनकर ने दुनिया को कहा अलविदा

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 April 2017, 8:46 IST
Vidushi Kishori Amonkar

जानीमानी शास्त्रीय संगीत गायिका किशोरी अमोनकर का सोमवार रात निधन हो गया है. वे 84 वर्ष की थीं. ख्याल, ठुमरी और भजनों को शास्त्रीय संगीत से सराबोर करने वाली किशोरी अमोनकर ने अपनी माता मोघूबाई कुर्दिकर से संगीत की शिक्षा हासिल की जो स्वयं एक नामी गायिका थीं.

दुनिया भर के संगीत रसिकों के दिलों में बसी किशोरी अमोनकर का वास्ता संगीत के जयपुर अतरौली घराने से रहा. वैसे तो किशोरी अमोनकर ने अपना सारा जीवन शास्त्रीय संगीत के नाम समर्पित किया लेकिन उनकी रूचि फिल्म संगीत में भी थी. साल 1964 में आई फिल्म गीत गाया पत्थरों ने का टाइटल सॉन्ग उन्होंने गाया था. बाद में 1990 में आई फिल्म दृष्टि में भी उन्होंने गाया था. एक हफ्ते बाद 10 अप्रैल को उनका जन्मदिन है. 

भारत सरकार ने किशोरी अमोनकर को वर्ष 1987 में पद्म भूषण और साल 2002 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया था.
किशोरी अमोनकर के निधन के बाद लोग उन्हें सोशल मीडिया पर भी याद कर रहे हैं. 

शबाना आज़मी ने ट्विट पर लिखा, 'ये बहुत बड़ा नुकसान है. मैं उनकी बहुत बड़ी फ़ैन हूं और ऐसे समय में रहने के लिए ख़ुद को भाग्यशाली समझती हूं जिसमें मैं किशोरी अमोनकर जी को गाते हुए सुन पाई. 'जानीमानी शास्त्रीय संगीत गायिका किशोरी अमोनकर का सोमवार रात निधन हो गया है. वे 84 वर्ष की थीं. 

First published: 4 April 2017, 8:46 IST
 
अगली कहानी