Home » कल्चर » Keeping these essential things meditation on the lunar eclipse
 

Chandra Grahan 2018: चंद्र ग्रहण से जुड़े हैं कई मिथ, आप कर सकते हैं नजरअंदाज

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 July 2018, 13:39 IST

आज यानी 27 जुलाई को सदी का सबसे लंबा चन्द्र ग्रहण लगेगा और चंद्र ग्रहण के शुरू होने से समाप्त होने तक का समय करीब 4 घंटे का होगा. बताया जाता है कि यह संयोग 104 साल के बाद बन रहा है, चंद्र ग्रहण 27 जुलाई की मध्य रात्रि में 11 बजकर 55 मिनट पर होगा और अंत कल यानी 28 जुलाई की सुबह 3 बजकर 39 मिनट पर होगा.

भारत में चंद्रग्रहण को लेकर कई मान्यताएं और मिथ बनी हुईं हैं जो आज भी लोगों के बीच बहुत प्रचलित हैं. हम आपको बताते कि इस दिन आपको क्या नहीं करना चाहिए.

ये हैं आज के दिन मिथ बनी हुईं बातें

1. हिंदू धर्म में ग्रहण को लेकर आज भी लोग चंद्रग्रहण के दौरान खाने-पीने से बचते हैं और इस दिन कुछ खाते-पीते नहीं हैं. अगर कुछ खाने का मन है, तो चंद्रग्रहण शुरू होने से पहले या फिर खत्म होने के बाद खा लें.

2. चंद्रग्रहण के समय अगर आपको किसी भी तरह की छोटी से छोटी चोट लगती है तो वह आपकी जिंदगी में हमेशा अपना घाव छोड़ सकती है. इस दिन लगी चोट से ज्यादा खून बहने की संभावना रहती है.

 

3. चंद्रग्रहण के समय गर्भवती महिलायों को घर से बाहर न निकलने की सलाह दी जाती है. इस दिन अगर कोई महिला इस दिन किसी भी तरह की धार वाली चीज इस्तेमाल करती है तो उसके गर्भ में पल रहे बच्चे के किसी भी अंग पर कट का निशान रह जाता है. इस दिन गर्भवती महिलाओं को सुई व नुकीली चीजों का उपयोग करने से भी बचना चाहिए.

 

4. चंद्रग्रहण के समय स्नान करना शुभ होता है। माना जाता है कि ऐसा करने से उत्तम आरोग्य की प्राप्ति होती है.

इन देशों में दिखेगा चंद्रग्रहण


भारत के अलावा यह चंद्रग्रहण म्यांमार, भूटान, पाकिस्तान, अफगानिस्तान चीन, नेपाल, एशिया, अफ्रीका, यूरोप, अंटाकर्टिका, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अमेरिका के मध्य और पूर्वी भाग में दिखाई देगा.

ये भी पढ़ें: चंद्र ग्रहण 2018: 27 जुलाई को होगा सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण, भूलकर भी ना करें ये काम

First published: 27 July 2018, 13:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी