Home » कल्चर » Know what are the worst assumptions men make about women
 

जानिए क्या हैं महिलाओं के बारे में पुरुषों की सबसे गलत धारणाएं

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 December 2016, 19:57 IST

क्या आपको पता है कि पुरुषों की महिलाओं के बारे में तमाम धारणाएं ऐसी होती हैं जो उन्हें काफी गुस्सा दिला देती हैं. महिलाओं ने इस बात का खुलासा किया है कि पुरुषों की सबसे बड़ी और पहली गलत आम धारणा यह है कि महिलाएं जो भी कुछ करती हैं, वो पुरुषों को रिझाने के लिए करती हैं.

बेशक कुछ ऐसे पुरुष भी हैं जो इन पुरानी रूढ़ियों में नहीं बंधे हैं और ऐसा नहीं सोचते हैं, लेकिन अधिकांश महिलाओं ने अपने जीवन के किसी न किसी हिस्से में यह बात जरूर सुनी है.

शादी के बाद महिलाएं क्यों लगाती हैं पति का सरनेम?

हालांकि महिलाओं की यह प्रतिक्रिया रेडिट पर हुई एक चर्चा में सामने निकलकर आई है जिसमें उनसे पूछा गया, "महिलाओं के बारे में पुरुषों की ऐसी कौन सी धारणा है जिसे आप अधिकांश या बिल्कुल गलत मानती हैं?"

इससे पता चला कि सबसे सामान्य धारणा जो पुरुषों के दिमाग में पहली बार आती है वो यह होती है कि महिलाएं जो भी करती हैं, पुरुषों के बारे में सोचकर करती हैं.

शादी के बाद पोर्न देखने वालों में पुरुषों से आगे महिलाएं

रेडिट पर इसके जवाब में एक महिला यूजर ने लिखा, "एक बार एक युवक ने मुझसे पूछा कि मैंने यह चैपस्टिक इसलिए लगाई है क्योंकि मैं उसे किस करना चाहती हूं. जबकि ऐसा नहीं था.... इसकी वजह यह थी कि मेरे होंठ फटे हुए थे."

एक अन्य महिला ने लिखा, "एक युवक ने एकबार मुझसे पूछा कि मैं जो चश्मा लगाती हूं क्या वो वाकई पॉवर वाला है या इसे केवल मैं खूबसूरत दिखने के लिए लगाती हूं."

रात में बेड पर स्मार्टफोन के इस्तेममाल से हो जाएं सावधान

इसके अलावा गलत रूढ़ीवादी सोच में यह बात भी शामिल है कि महिलाओं का रोना बहानेबाजी होता है (घड़ियाली आंसू), क्योंकि उन्हें केवल आदमी के पैसों की चिंता होती है और पुरुषों की तरह महिलाओं में सेक्स की उतनी इच्छा नहीं होती और न ही वे इसे एंज्वॉय करती हैं. 

एक अन्य यूजर ने कहा, "कई पुरुषों को यह बात समझ में नही आती कि महिलाएं भी सेक्स के बारे में फैसला ले सकती हैं." जबकि एक दूसरी महिला की माने तो, "यह धारणा भी गलत है कि जैसे ही महिलाएं शादी कर लेती हैं वो सेक्स करना बंद कर देती हैं. हां, जैसे हम केवल डेटिंग में ही सेक्स की चाहत दिखाती हैं और हमारी इच्छा होती है कि हमारा पार्टनर हमारी अंगुली में अंगूठी पहना दे."

जानिए मौत के बाद भी कैसे जिंदा रह सकते हैं आप

इसके साथ ही महिलाओं की भारी तादाद ने इस बात को भी लिखा कि पुरुषों की आम धारणा यह भी है कि सभी महिलाएं एक-दूसरे से घृणा करती हैं.

इस बारे में एक महिला ने लिखा, "हमारी महिला मित्र हकीकत में हमारी मित्र नहीं होतीं क्योंकि वे हमसे प्रतिस्पर्धा करती हैं, लेकिन हमारे पुरुष मित्र भी हमारे असली दोस्त नहीं होते क्योंकि वो भी अंदर ही अंदर हमारे साथ सेक्स के बारे में सोचते हैं."

चुंबन का विज्ञान: ज्यादा कमाना और ज्यादा जीना चाहते हैं तो ऐसे किस करें

यह सच है कि यह धारणाएं कुछ लोगों पर लागू होती हैं और कुछ पर नहीं क्योंकि पुरुष खुद को रूढ़िवादी नहीं साबित करना चाहते. यानी खुद को ऐसे व्यक्ति के रूप में नहीं साबित करना चाहते जो वादा न निभा पाए या केवल सेक्स के बारे में ही सोचे. हालांकि महिलाएं इस मामले में केवल किसी एक ही धारणा पर सीमित नहीं होतीं.

First published: 11 December 2016, 19:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी