Home » कल्चर » Lunar Eclipse 2019 : Avoid Doing These 5 Things During Chandra Grahan
 

चंद्र ग्रहण के दौरान भूल से भी ना करें ये काम, टूट पड़ेगा दुखों का पहाड़

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 January 2019, 13:12 IST

इस साल का दूसरा ग्रहण सोमवार यानि 21 जनवरी को लगने वाला है. ये साल का पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा. बता दें कि साल का पहला चंद्र ग्रहण सुपर ब्लड वुल्फ मून के नाम से जाना जाएगा. ग्रहण के दौरान इस दिन चांद लाल और तांबे जैसे रंग का दिखाई देगा. इस साल का दूसरा चंद्र ग्रहण 16 जुलाई को होगा.

ग्रहण के दौरान क्या करें

ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक ग्रहण के दौरान कच्ची सब्जियां और फल पूरी तरह से खाए जा सकते हैं, क्योंकि उनमें किसी प्रकार के कोई बदलाव देखने को नहीं मिलते. इसके साथ ही घर में रखे हुए पानी में कुशा डाल देनी चाहिए, इससे पानी दूषित नहीं होता है.

इस दौरान पवित्र नदियों में स्नान कर यथा शक्ति दान अवश्य देना चाहिए. चन्द्रग्रहण के समय संयम रखकर जप-ध्यान करने से कई गुना फल होता है. ग्रहण पूरा होने पर सूर्य या चन्द्र, जिसका ग्रहण हो उसका शुद्ध बिम्ब देखकर भोजन करना शुभ माना जाता है.

ग्रहण के दौरान ये काम करने से बचें

ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक ग्रहण के दौरान सिर पर तेल लगाना, खाना खाना और बनाना, वर्जित माना जाता है. पका हुआ भोज्य पदार्थ ग्रहण लगने तक पूरी तरह से जहर में बदल जाता है. बता दें कि चंद्र ग्रहण के दौरान वायुमंडल में बैक्टीरिया और संक्रमण का प्रकोप तेजी से बढ़ जाता है. ऐसे में भोजन करने से संक्रमण अधिक होने की आशंका रहती है. इसलिए ग्रहण के दौरान भोजन खाने से बचना चाहिए.

यही नहीं ग्रहण के दौरान पति और पत्नी को शारीरिक संबंध नहीं बनाने चाहिए. यदि इस दौरान गर्भ ठहर गया तो संतान विकलांग या मानसिक रूप से विक्षिप्त हो सकती है. ग्रहण के समय कोई भी शुभ या नया काम शुरु करना भी अच्छा नहीं माना जाता. वहीं हिंदू शास्त्रों के मुताबिक किसी भी प्रकार का चंद्र ग्रहण कभी भी किसी रूप में शुभ नहीं माना जाता है. ऐसा माना जाता है कि चंद्र ग्रहण का प्रकोप इंसान पर 108 दिन तक रहता है.

ये भी पढ़ें- Chandra Grahan 2019: इस दिन होगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, जानिए कहां-कहां देगा दिखाई

First published: 15 January 2019, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी