Home » कल्चर » Snake Temple : Mysterious snake temple in india
 

Snake Temple : एक ऐसा मंदिर जहां आते ही उतर जाता है अत्यंत विषैले सांपों का जहर, पूरी हो जाती हैं सभी मन्नतें

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 July 2020, 10:07 IST

Snake Temple : भारत में कई ऐसे मंदिर और जगहें मिल जाएंगी जहां लोगों की मुश्किलों का हल तुरंत मिल जाता है. ज्योतिष के मुताबिक हिंदू धर्म में कई ऐसी बाते हैं जिनका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण तो नहीं है लेकिन इनके अस्तित्व को कोई नजरअंदाज भी नहीं कर सकता.

आज हम आपको एक ऐसे ही मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां जाने से मात्र सांप का जहर उतर जाता है. हालांकि आज भी लोगों को इसपर यकीन करना मुश्किल होता है कि आखिर क्या वजह है कि इन जगहों पर अत्यंत विषैले सांपों का जहर बस कुछ ही देर में उतर जाता है.


 

उत्तराखंड में देवभूमि करके एक स्थान है जहां पर सांप द्वारा काटे जाने के बावजूद सांप का जहर उतर जाता है. बताया जाता है कि इस गांव में सदियों से नागों की पूजा होती आ रही है इसलिए इस मान्यता है कि इस गांव पर नांग देवता की कृपा हा. गांव में हर साल 13 अप्रैल को नाग देवता की पूजा अर्चना करने का विधान है. इस पूजा में शामिल करने के लिए बहुत दूर दूर से लोग आते हैं. इसी के साथ इस मंदिर में ये भी मान्यता है कि अगर सच्चे मन से मांगी गई हर मनोकामना नाग देवता जरूर पूरा करते हैं.

इसी तरह की एक जगह छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले में भी है. जहां पर किसी को सांप ने काटा हो और वो आए तो उसका जहर उतर जाता है. रायपुर के डिघारी गांव में भी सांपों के साथ गहरी दोस्ती. यहां कभी भी कोई सांप को नहीं मारते हैं. ना ही यहां के सांप किसी व्यक्ति को काटते हैं.

लेकिन यदि किसी को कहीं सांप ने काटा हो तो इस मंदिर में उसका जहर उतर जाता है. इसके पीछे की ये मान्यता बताई जाती है कि इस गांव में एक बार किसी ब्राह्मण ने सांप की जान बचाई थी. यह उस सांप का ही वरदान है कि इस गांव में किसी को सांप नहीं काटता. वहीं दूसरी जगह से अगर कोई आए जिसे सांप ने काटा हो तो सांप की कृपा से उसकी जान बच जाती है.

मोटापा, टैटू से लेकर चॉपस्टिक पर देना पड़ता है पैसा! दुनिया में वसूले जाने वाले ये अजीबोगरीब टैक्स

First published: 21 July 2020, 10:59 IST
 
अगली कहानी