Home » कल्चर » Nag panchami 2019 rare coincidence after 125 years on sawan monday
 

125 साल बाद बन रहा ये दुर्लभ संयोग, ऐसे पूजा करने से होगी सभी मनोकामना पूरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 August 2019, 9:11 IST

नाग पंचमी आज पूरे देशभर में मनाई जा रही है. इस बार 125 सालों बाद ऐसा संयोग आया है, जब सोमवार के दिन ही नागपंचमी मनाई जा रही है. इसलिए इस पावन अवसर पर पूजा-पाठ करने से दोगुना फल प्राप्ति का संयोग बन रहा है. इस संयोग के साथ-साथ आज के दिन यायीजयद योग और हस्त नक्षत्र का भी संयोग बन रहा है.

 

सावन के शुक्ल पक्ष के पंचमी के दिन नाग पंचमी का पर्व मनाया जाता है. इस साल की नागपंचमी काफी दुर्लभ संयोग के साथ पड़ रही है. इस बारे में विशेषज्ञ बताते हैं कि भगवान शिव को इस अवसर पर रुद्राभिषेक करना बेहद शुभ माना जाता है. नाग पंचमी का मुहूर्त पांच अगस्त को सुबह 5:49 से 8:28 के बीच है. जबकि समाप्ति आज ही के दिन 3:54 तक रहेगी.

 

पुराणों के मुताबिक, नाग पंचमी के अवसर पर पृथ्वी का पूरा भार शेषनाग अपने सिर पर लिए रहते हैं. इसलिए आज के दिन भगवान शिव की पूजा अति आवश्यक है. आज का दिन गरुड़ पंचमी के नाम से भी जाना जाता है. इस दिन नाग देवता के साथ-साथ गरुड़ देव की भी पूजा की जाती है.

 

विशेषज्ञों के अनुसार, आज के दिन नागों की पूजा करने से दैहिक दैविक और भौतिक पापों से मुक्ति मिलती है. इसके साथ ही जन्मपत्री में कालसर्प का दोष भी दूर होता है. कालसर्प का दोष दूर करने के लिए यह अति समय माना जाता है.

इन 4 चीजों को घर में रखने से होगा दोगुना लाभ, धन-संपत्ति की होगी भरमार

First published: 5 August 2019, 9:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी