Home » कल्चर » Nag Panchami Puja Muhurat, Date and Time, Significance And All You Need To Know
 

Nag Panchami 2020 : आज नाग पंचमी, ये है शुभ मुहूर्त और ऐसे करें पूजा

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 July 2020, 10:27 IST

Nag Panchami 2020 : भगवान शिव के लिए ये महीना बेहद खास माना जाता है.सावन शिव जी के लिए ही नहीं बल्कि उनके कंठ में निवास करने वाले नाग देवता का भी पूजन करने का विधान है. जिसे नाग पंचमी के रूप में मनाया जाता है.

मान्यता के अनुसार, नाग पंचमी के दिन नाग देवता की आराधना करने से भक्तों को उनका आशीर्वाद प्राप्त होता है. इस बार नाग पंचमी 25 जुलाई को पड़ रही है. नाग पंचमी सावन के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाई जाती है. इस दिन नागों की पूजा की जाती है.


अगर आप भी बिस्तर पर बैठकर खाते हैं खाना तो आज ही बदल दें अपनी ये आदत, वरना हो जाएंगे कंगाल

कहा जाता है कि पंचमी के दिन नाग देवता की पूजा करने से विशेष फल प्राप्त होता है.संयोग की बात करें तो इस नाग पंचमी में मंगल वृस्चिक लग्न में होंगे. इस दिन क्लिक भगवान की जयंती भी है और विनायक चतुर्थी व्रत का पारण भी है.

हिंदू मान्यताओं के मुताबिक सर्पों को पौराणिक काल से ही देवता के रूप में पूजा जाता रहा है. इसलिए नाग पंचमी के दिन नाग पूजन का अत्यधिक महत्व है.मान्यता है कि नाग पंचमी के दिन नागों की पूजा करने वाले व्यक्ति को सांप के डसने का भय नहीं होता.

 Lunar Eclipse 2020: इस बार चंद्र ग्रहण में बन रहा है गज केसरी योग, इन राशि के लोगों के खुल सकते हैं भाग्य

इस दिन सर्पों को दूध से स्नान और पूजन कर दूध से पिलाने से अक्षय-पुण्य की प्राप्ति होती है.सांप के लिए विशेष महत्व होता है. इस दिन उन्हें सर्पों के निमित्त दूध और पैसे दिए जाते हैं.वहीं कुछ घरों में लोग नाग चित्र बनाने की भी परम्परा है.कहा जाता है कि इससे वह घर नाग-कृपा से सुरक्षित रहता है.

इन वस्तुओं में रहता है मां लक्ष्मी का वास, घर में रखने से दूर होती है पैसों की किल्लत

नाग पंचमी इस बार 25 जुलाई दिन शनिवार को मनाई जाएगी. पंचमी तिथि प्रारंभ- 14:33 (24 जुलाई) और समाप्त-12:01 (25 जुलाई) को समाप्त हो जाएगा. पूजा मुहूर्त का वक्त 05:47:20 से 08:27:04 तक है.

इस दिन भक्त पूजन के लिए नाग देवता के मंदिर में जाकर प्रतिमा पर दूध और जल से अभिषेक करके धूप-दीप जलाएं और नाग देवता से प्रार्थना करते हैं. मान्यता है कि जो लोग नाग देवता की पूजा करते हैं. मान्यता के मुताबिक ऐसा माना जाता है कि नाग देवता, धन की देवी मां लक्ष्मी की रक्षा करते हैं. इस दिन श्रीया, नाग, और ब्रह्म और शिवलिंग स्वरूप की आराधना से मनोवांधित फल मिल जाते हैं.

Chandra Grahan 2020: गुरु पूर्णिमा पर लगने वाले चंद्रग्रहण के बारे में जानिए सब कुछ

First published: 7 July 2020, 9:12 IST
 
अगली कहानी