Home » कल्चर » navratri 2020 day 5 maa skandmata puja vidhi
 

Navratri 2020: नवरात्रि के पांचवें दिन स्‍कंदमाता की करें पूजा, ये हैं महत्व

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 October 2020, 15:25 IST

Navratri 2020: नवरात्रि का आज पांचवां दिन है. ये दिन मां स्कंदमाता का है. इस दिन माता स्कंदमाता की अराधना और उपासना की जाती है. मान्यता है कि इनकी पूजा करने से संतान योग की प्राप्ति होती है. हिंदू मान्यताओं के मुताबिक स्कंदमाता सूर्यमंडल की अधिष्ठात्री देवी हैं. इनकी पूजा जो भी भक्तगण पूरे मन और श्रद्धा के साथ करता है उसे ज्ञान और मोक्ष की प्राप्ति होती है.

स्कंद माता के अगर रूप की बात करें तो इनकी चार भुजाएं हैं. दाईं तरफ की ऊपर वाली भुजा से उन्होंने स्कंद को गोद में पकड़ा हुआ है. नीचे वाली भुजा में कमल का पुष्प है. बाईं तरफ की ऊपर वाली भुजा वरदमुद्रा में है और नीचे वाली भुजा में कमल का पुष्प है. इनका वर्ण एकदम गौर है. ये कमल के आसन पर विराजमान है और इनकी सवारी शेर है.


पौराणिक मान्यताओं के मुताबिक माता स्कंदमाता हिमालय की पुत्री हैं और इस वजह से इन्हें पार्वती भी कहा जाता है. इनका वर्ण गौर है इसलिए इन्हें देवी गौरी के नाम से भी जाना जाता है. मां कमल के पुष्प पर विराजित अभय मुद्रा में होती है इसलिए इन्हें पद्मासना देवी और विद्यावाहिनी दुर्गा भी कहा जाता है.

shardiya navratri 2020 : माता रानी की अपार कृपा पाने के लिए जरूर करें ये खास उपाय, पूर्ण होंगी सभी मनोकामनाएं

 

भगवान स्कंद यानी कार्तिकेय की माता होने के कारण इनका नाम माता स्कंदमाता पड़ा. कहा जाता है कि स्कंदमाता प्रसिद्ध देवासुर संग्राम में देवताओं की सेनापति बनी थीं. इस वजह से पुराणों में कुमार और शक्ति कहकर इनकी महिमा के बारे में बताया गया है.

ऐसे करें पूजा-

नवरात्रि के पांचवें दिन सबसे पहले स्नान करें और साफ सुथरे कपड़े पहने. इसके बाद पूजा स्थान में चौकी पर स्कंदमाता की तस्वीर या प्रतिमा स्थापित करें. गंगाजल से शुद्धिकरण भी करें. इसके बाद एक कलश में पानी लेकर उसमें कुछ सिक्के डालें और उसे चौकी पर रख दें. इसके बाद माता स्कंदमाता को रोली कुमकुम लगाएं और नैवेद्य अर्पित करें. अब धूप दीपक से मां की आरती उतारें. इसके बाद घर में सभी लोगों को प्रसाद बांटे.

Sharad Purnima 2020: जानिए कब है शरद पूर्णिमा, इस दिन आसमान से गिरती हैं अमृत की बूंदे

First published: 21 October 2020, 15:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी