Home » कल्चर » never make these mistake in navratri
 

भूलकर भी नहीं करनी चाहिए नवरात्र में ये गलतियां, वरना उठाना पड़ सकता है बड़ा नुकसान

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 March 2020, 16:48 IST

चैत्र नवरात्रि (navratri) 25 अक्टूबर से शुरू होने वाली हैं. नवरात्री में मां की मूर्ति स्थापित की जाएगी व कलश स्थापना होगी. इस पूजा-पाठ से पहले आपको इस जुड़े नियमों के बारे में जरूर जान लेना चाहिए.

ये काम ना करें-
नवरात्रि के दौरान उपवास करने वाले व्यक्ति को दाढ़ी-मूछ और बाल नहीं कटवाने चाहिए.
कलश स्थापना के बाद घर को खानी नहीं छोड़ना चाहिए.

नौ दिन तक सात्विक भोजन करना चाहिए. इस दौरान नॉनवेज व लहसुन, प्याज का सेवन नहीं करना चाहिए.

व्रत करने वाले व्यक्तचि को व्रत के खाने में अनाज का सेवन नहीं करना चाहिए.
विष्णु पुराण के मुताबिक नवरात्ति व्रत के समय दिन में सोना अपशगुन माना जाता है. दिन में सोने से बचना चाहिए.

उपवास के दौरान शराब का सेवन कतई नहीं करना चाहिए.

व्रत के दौरान तम्बाखू के सेवन से व्रत का फल नहीं मिलता है.

उपवास के दौरान शारिरिक संबंध बनाने से व्रत का फल नहीं मिलता है.

महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान पूजा भूलकर भी नहीं करनी चाहिए.

महिलाओं के मासिक धर्म के सात दिनों तक पूजन वर्जित किया गया है.

 इस नवरात्री खुलेगी इन चार राशियों की किस्मत, लक्ष्मी मां की बरसेगी कृपा

पैसों की किल्लत और करियर में तरक्की के लिए होली पर करें ये जादुई टोटके

ये काम करें-
ब्रम्हमुहूर्त में स्नान कर देवी मां पूजन करना चाहिए. सूर्योदय के पूर्व पूजन से देवी मां प्रसन्न होती है.
नौ देवियों को दिन के अनुरूप उन्हें भोग लगाना चाहिए और उनकी पूजा विधान के साथ करना चाहिए.

व्रत में कुट्टु का आटा, समारी चावल, सिंघाडे का आटा, साबूदाना, सेंधा नमक, फल, आलू, मेवे, मूंगफली खानी चाहिए.

नौ दिन में चौबीस हजार गायत्री मंत्रों का जाप करना चाहिए.

कोरोना वायरस का वैष्णो देवी यात्रा पर असर, विदेशी नागरिक और NRI नहीं कर पाएंगे दर्शन

तुलसी, चंदन और रुद्राक्ष की मालाओं का उपयोग जाप के लिए करना चाहिए.

First published: 23 March 2020, 14:10 IST
 
अगली कहानी