Home » कल्चर » Sania Mirza autobiography will hit stands in July this year
 

टेनिस सनसनी सानिया मिर्जा की आत्मकथा जुलाई में

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 May 2016, 20:31 IST

देश की टेनिस सनसनी सानिया मिर्जा के जीवन की जगमगाहट तो सभी ने देखी है. लेकिन उनके जीवन की उतार-चढ़ाव भरी दास्तान कुछ ही लोगों को पता है. इसी को बयां करती सानिया मिर्जा की 'एस अगेंस्ट ऑड्स-Ace Against Odds' शीर्षक से आत्मकथा को आप इस साल जुलाई में पढ़ सकेंगे. 

सानिया के बचपन से लेकर विश्व की पहली वरीयता की युगल टेनिस खिलाड़ी बनने तक के सफर की कहानी को कलम देने का काम उनके पिता इमरान मिर्जा ने भी किया है. दोनों के किताब लिखने की असल वजह यह रही कि सानिया के जीवन के तमाम पहलू इसमें आ जाएं.

वीडियोः सानिया-शोएब की नोंक-झोंक का वीडियो पाकिस्तान में हुआ वायरल

गौरतलब है कि सानिया मिर्जा (29) ने जब 13 साल पहले केवल 16 साल की उम्र में विंबलडन गर्ल्स का खिताब अपने नाम किया था, तब उन्हें देश भर में पहचान मिल गई थी. 

<a href=Sania Mirza Padam.jpg">

पद्म भूषण अवॉर्ड के साथ सानिया

अपनी किताब के बारे में जानकारी देते हुए सानिया ने मीडिया को बताया, "मुझे उम्मीद है कि इस किताब से आगे आने वाले युवा खिलाड़ियों को अपना करियर संवारने में मदद मिलेगी. अगर मेरी किताब से किसी एक खिलाड़ी को भी ग्रैंड स्लैम जीतने में मदद मिलती है तो मैं समझूंगी कि मेरी मेहनत सफल रही." 

सानिया की इस आत्मकथा में तमाम ऐसी परिस्थितियों के बारे में बताया गया है जब उनके सामने कई चुनौतियां आईं और वो बिना हार मानें मेहनत करती रहीं.

पढ़ेंः इसलिए मॉडल्स रैंप पर चलते वक्त मुस्कुराती नहीं हैं

गौरतलब है कि वर्ष 2012 में सानिया ने सिंगल्स से संन्यास ले लिया था और डबल्स खेलना ही जारी रखा. इतना ही नहीं अगस्त 2015 से लेकर मार्च 2016 तक सानिया मिर्जा ने मार्टिना हिंगिस के साथ जोड़ी बनाकर एक के बाद एक लगातार 41 जीत दर्ज करते हुए एक रिकॉर्ड बना दिया.
First published: 4 May 2016, 20:31 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी