Home » कल्चर » See how great & colorful Diwali was celebrated in Karachi
 

देखें कराची में मनाई गई दिवाली की शानदार तस्वीरें

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 November 2016, 16:37 IST
(द डॉन)

कराची को अक्सर एक नीरस शहर बताया जाता है और कई बार खतरनाक भी. करीब 2 करोड़ की आबादी वाले इस शहर में सार्वजनिक स्थलों का अभाव होने के साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए भी सीमित स्थान ही मौजूद हैं.

लेकिन यहां की मशहूर विविधता अब जांच के दायरे में है जिसके चलते अल्पसंख्यक यहां से विदेशों में जाकर बस रहे हैं और जो यहां रह रहे हैं उन्होंने खुद को एक तरह से शांत बना रखा है.

पाकिस्तान के अखबार द डॉन में छपी एक खबर में बताया गया कि सुरक्षा की अनिश्चितता की वजह से गैर-मुस्लिमों ने धार्मिक त्योहारों का आयोजन सीमित कर दिया है. त्योहार आते-जाते रहते हैं लेकिन उनके आयोजनों की भनक नहीं पड़ती. 

हालांकि जो लोग कुछ वक्त तक कराची में रहे हैं उन्हें पता होगा कि यह शहर लोगों के लिए धीरे-धीरे खुलता है. शहर में कई ऐसे हिस्से हैं जो सुर्खियों में आए बिना साल भर कई आयोजनों, त्योहारों का खूबसूरत दृश्य दिखाते हैं.

अब ताजा मामले को ही लें. डॉन के लिए फारूक सूमरो लिखते हैं कि बीते सप्ताह लंदन से उनके एक मित्र आए और उन्होंने पूछा कि दिवाली की क्या योजना है. फारूक ने उन्हें कराची में बचे सबसे बड़े हिंदू मंदिर श्री स्वामीनारायण मंदिर ले चलने के लिए कहा. जहां पर रोशनी के त्योहार दिवाली को धूमधाम से मनाया गया. हालांकि वहां मंदिर के बाहर काफी मात्रा में पुलिस और सुरक्षाबल मौजूद था.

200 साल पुराने इस मंदिर के भीतर रोशनी और फूलों से बेहतरीन सजावट की गई थी. मंदिर के बाहर बच्चे आतिशबाजी जला रहे थे, इनमें कुछ धमाके वाले और कई रोशनी बिखेरने वाले थे. धीरे-धीरे वहां रोशनी बिखरने के साथ भीड़ भी बढ़ती गई और आतिशबाजी तेज होने का सिलसिला चालू हो गया. 

मंदिर के पास की गलियों में जाकर देखा तो वहां खूबसूरत-रंगबिरंगी रंगोलियां बनाई गई थीं. जबकि वहां बने घर मिट्टी के दीयों और झालरों से जगमगा रहे थे. 

इसके बाद फारूक और उनके साथी कराची की विविधता के केंद्र नारायणपुरा पहुंचे जहां 10 हजार हिंदुओं, सिखों और इसाईयों की घनी आबादी रहती है. लोग त्योहारों पर एक दूसरे के घर जाकर बधाई देते हैं.

देखिए कराची की दिवाली की शानदार और रोशनी बिखेरती तस्वीरेंः

सभी तस्वीरें साभारः फारूक सूमरो और कामरान नफीस (द डॉन)

तस्वीरें साभारः फारूक सूमरो और कामरान नफीस (द डॉन)
First published: 6 November 2016, 16:37 IST
 
अगली कहानी