Home » कल्चर » vastu tips for kitchen
 

अपने घर की किचन से जुड़े करें ये उपाय, बनी रहेगी खुशहाली

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 September 2020, 16:59 IST

वास्तु शास्त्र के अनुसार भी कई बार घर बनवाने के बावजूद कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. अगर आपका घर भी वास्तु के मुताबिक बना है और उसके बाद भी आपके घर में परेशानी बनी रहती है तो आपको अपने किचन के वास्तु पर ध्यान देने की जरूरत है. क्योंकि कई बार धन हानि, व्यापार हानि और रिश्तों में कटुता जैसी अनेक परेशानियां वास्तुदोष की वजह से ही होती हैं.

घर में किचन वैसे तो घर की दक्षिण-पूर्व दिशा को सर्वश्रेष्ठ माना गया है. लेकिन फिर भी आप चाहें तो पूर्व में या फिर उत्तर-पश्चिम दिशा की तरफ पश्चिम दिशा में भी रसोई का निर्माण कर सकते हैं. लेकिन ध्यान रखिए कि दक्षिण-पश्चिम दिशा में किचन कतई नहीं होनी चाहिए. किचन का इस दिशा में होना एक बड़ा वास्तु दोष है. इस दिशा में अगर किचन होती है तो वो व्यक्ति अपने कौशल का इस्तेमाल नहीं कर पाता है जिसके चलते घर-परिवार में खराब रिश्तों का सामना करना पड़ सकता है.


रसोई में चूल्हा आग्नेय कोण में रखना चाहिए. जिस ओर खाना पकाना है उसका मुख पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए. जिससे धन की वृद्धि और स्वास्थ्य अच्छा रहता है.घर में सुबह उठते ही किचन की सफाई करनी चाहिए. इसके बाद किचन में खाना बनाएं. जिससे माता अन्नपूर्णा कृपा हमेशा बनी रहेगी. इसी के साथ आपके घर में कभी धन की कमी नहीं होगी.

अपने घर की किचन से जुड़े ये उपाय, घर में बनी रहेगी खुशहाली

रसोई घर में चूल्हा आग्नेय कोण में रखना चाहिए और खाना पकाने वाले का मुख पूर्व दिशा की ओर होना भी जरूरत है, इससे धन की वृद्धि और स्वास्थ्य अच्छा रहता है. पीने योग्य जल का भंडारण व हाथ धोने के लिए नल ईशान कोण में होना चाहिए. रसोई में सिंक यानि कि बर्तन धोने की दिशा के उत्तर-पश्चिम दिशा शुभ मानी गई है.

vastu tips: इन वास्तु टिप्स को अपनाकर आप पा सकते हैं अपनी मनचाही नौकरी!

First published: 22 September 2020, 16:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी