Home » कल्चर » vastu-tips-in-hindi-measures-to-remove-vastu-dosha
 

घर में इन वास्तु दोष के कारण होती है कलह, इन उपायों से करें दूर

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 December 2020, 17:26 IST

घर और व्यापार में सुख-समृद्धि के लिए पॉजिटिव एनर्जी का होना बहुत जरूरी है. क्योंकि कई बार सकारात्मक एनर्जी के बजाय निगेटिव एनर्जी का प्रवाह होने लगता है वहां पर अशांति का वातावरण रहता है और परेशानियां बढ़ने लगती है. वास्तु में हर स्थान के निर्माण और साज-सज्जा को लेकर भी नियम बताए गए हैं. कई बार हम छोटी-छोटी चीजों पर ध्यान नहीं देते हैं. लेकिन जाने अनजाने कुछ बातों पर ध्यान न देने के काण घर में निगेटिव एनर्जी का प्रवाह होने लगता है. जिससे हमारे जीवन में समस्याएं आने लगती है.चलिए बताते हैं आपको सकारात्मक एनर्जी को वास्तु के मुताबिक कैसे बढ़ाया जा सकता है.

घर में मेन गेट ऐसी जगह पर होना चाहिए जहां पर ऊर्जा के प्रवाह का मुख्य स्थान होता है. इसलिए दरवाजा हमेशा ऐसे खुलना चाहिए की दरवाजे के पास गैलरी में अंधेरा न रहे. प्रकाश और हवा का आगमन सुचारु रूप से रहे. जिन घरो का दरवाजा पूरी तरह से नहीं खुलता है वहां रहने वाले सदस्यों के लिए तरक्की के अवसर भी सीमित हो जाते हैं. दरवाजा पूरी तरह से खुलना बहुत जरूरी होता है.


 

अक्सर घरों में देखा जाता है कि कई चीजें ऐसी होती हैं जिन्हें बिना किसी वजह से हम संभाल कर रखा जाता है, लेकिन घर में कभी ऐसी चीजों को नहीं रखनी चाहिए जो चटकी और फिर टूटी हुई हो. अपने घर की अलमारी में से ऐसी चीजों को फौरन हटा दें. घर में टूटी और बिना काम की फालतू वस्तुओं के रखे होने के कारण नकारात्मकता बढ़ती है जो परिवार में कलह को बढ़ावा देती है.

घर में मकड़ी के जाले न लगे रहने दें. वीक में एक बार घर को अच्छी तरह से साफ करते रहें. नमक मिले पानी से घर में पोंछा लगाएं इससे घर की नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है.क्योंकि रसोई घर में किसी भी तरह की ऊर्जा का सीधा असर घर के सभी सदस्यों पर पड़ता है. इसलिए कभी भी रसोई और बाथरुम को आमने सामने या फिर पास में नहीं बनवाना चाहिए. यदि आपकी रसोई और बाथरुम का दरवाजा आमने-सामने है तो बिल्कुल करें कि बिना काम के बाथरुम का दरवाजा खुला हुआ न रखें.

First published: 2 December 2020, 17:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी