Home » कल्चर » Vishwakarma Puja 2020 Date Puja Timings Shubh Muhurat and significance
 

Vishwakarma Puja 2020 : विश्वकर्मा पूजा का है खास महत्व, ये है पूजा की विधि

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 September 2020, 11:27 IST

Vishwakarma Jayanti 2020 : विश्वकर्मा पूजा हर साल मनाई जाती है.इस दिन भगवान विश्वकर्मा का जन्म हुआ था. भगवान विश्वकर्मा को दुनिया का पहला इंजीनियर और वास्तुकार माना जाता है. इसी के चलते इस दिन फैक्ट्र‍ियों में हर तरह के मशीन की पूजा की जाती है.

पौराणिक कथाओं के मुताबिक, भगवान विश्वकर्मा ने ही देवताओं के लिए अस्त्रों, शस्त्रों, भवनों और मंदिरों का निर्माण किया था. ये भी कहा जाता है सृष्टि की रचना में भगवान ब्रह्मा की सहायता की थी, ऐसे में इंजीनियरिंग काम में लगे लोग उनकी पूजा करते हैं. यह पूजा सभी कलाकारों, बुनकर, शिल्पकारों और औद्योगिक घरानों द्वारा की जाती है.


कथा के मुताबिक धर्म की वस्तु नामक स्त्री से उत्पन वास्तु के सातवें पुत्र थें, जो शिल्पशास्त्र के प्रवर्तक थे. वास्तुदेव की अंगिरसी नामक पत्नी से विश्वकर्मा का जन्म हुआ था, अपने पिता की तरह विश्वकर्मा भी वास्तुकला के अद्धितीय आचार्य बनें.

वास्तु शास्त्र से जाने झाड़ू के रख-रखाव की इन बातों का ध्यान, भूलकर भी ना करें ये गलतियां

 

ये है पूजा का महत्व-
विश्वकर्मा को पहला वास्तुकार माना जाता है. इसलिए हर साल घर में रखे हुए लोहे और मशीनों की पूजा करते हैं तो वो जल्दी खराब नहीं होते हैं. कहा जाता है कि मशीनें अच्छी चलती हैं क्योंकि भगवान उनपर अपनी कृपा बनाकर रखते हैं.

ये है विश्वकर्मा पूजा की विधि-
इस दिन सुबह उठकर अच्छे कपड़े पहनने चाहिए. पूजा के दौरान अपने साथ अक्षत, हल्दी, फूल, पान, लौंग, सुपारी, मिठाई, फल, धूप, दीप और रक्षासूत्र से पूजा शुरु करें. इसके बाद जिन चीजों की आपको पूजा करनी हो उनपर हल्दी और चावल के साथ रक्षासूत्र चढ़ाएं.इसके बाद मंत्रों का उच्चारण करें.

मनी प्लांट को घर में रखने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

First published: 15 September 2020, 14:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी