Home » दिल्ली » 17 Killed In massive Fire in plastic factory at bawana industrial area in delhi including women and child
 

दिल्ली: प्लास्टिक फैक्ट्री में लगी 'मौत' की आग में 17 लोगों ने जान गंवाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 January 2018, 0:42 IST

देश की राजधानी दिल्ली में स्थित बवाना इंडस्ट्रियल इलाके में एक प्लास्टिक फैक्ट्री में भीषण आग लगने से 17 लोगों को मारे जाने की खबर है. मरने वालों में कई महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं. मौके पर भारी संख्या में बचाव दल पहुंच गया है. कई घायलों को एंबुलेंस से नजदीकी अस्पताल में ले जाया गया है.

फायर ब्रिगेड की 10 से 15 गाड़ि‍यां घटनास्थल पर मौजूद हैं. जानकारी के मुताबिक आग पर काबू पा लिया गया है. एएनआई से बातचीत करते हुए नार्थ दिल्ली की मेयर प्रीति अग्रवाल ने कहा कि नौ बजे सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची. इस समय स्थिति नियंत्रण में है.

आग लगने के कारणों का अभी पता नहीं तल पाया है. जानकारी के मुताबिक आग से बचने के लिए कुछ लोग तीसरी मंजिल से कूद गए. वहीं दिल्ली फायर सर्विस के डायरेटक्टर जीसी मिश्रा का कहना है कि हमें बवाना में तीन जगह आग लगने की खबर मिली.

इसमें से एक सेक्टर एक में प्लास्टिक फैक्ट्री, दूसरी सेक्टर 5 में पटाखों की दुकान से और तीसरी फरनेस के ओल्ड स्टोर में आग लगने की थी. सारी दुर्घटनाएं सेक्टर 5 में हुई हैं. अब आग पर काबू पा लिया गया है. हमने 17 लाशों को बरामद कर लिया है.

 

इस घटना पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर दुख जताया है. केजरीवाल से अपने ट्वीट में लिखा ‘‘कई लोगों के मारे जाने के बारे में सुनकर बहुत दुख हुआ. बचाव अभियान पर करीबी नजर रख रहा हूं.’’ केजरीवाल सरकार में शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि आग की घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं.


 

इसके अलावा पीएमओ ने भी ट्वीट कर इस घटना पर अफसोस जारी किया है. पीएमओ ने पीएम मोदी के नाम से ट्वीट किया. पीएमओ ने ट्वीट में लिखा ‘‘ मैं (पीएम मोदी) बवाना में एक फैक्ट्री में आग लगने से काफी दुखी हूं. मेरी संवेदनाएं उन लोगों के परिवारों के साथ जिनके अपनों की जान इस घटना में चली गई है. मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं.’’

इस घटना के बाद केंद्रीय स्वास्थ मंत्री जेपी नड्डा ने स्वास्थ सचिव को घायलों को जल्द से जल्द सेवा मुहैया कराने के आदेश देने के साथ-साथ एम्स के ट्रामा सेंटर को अलर्ट रहने को कहा है,

First published: 21 January 2018, 0:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी