Home » दिल्ली » Delhi: Development Minister Gopal Rai visits Ghazipur chicken mandi amidst bird flu scare
 

दिल्ली: बर्ड फ्लू से घबराने की जरूरत नहीं, गाजीपुर मुर्गा मंडी में नहीं मिला संक्रमण

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:45 IST
(एएनआई)

दिल्ली में बर्ड फ्लू के खतरे के बीच एक राहत भरी खबर है. दिल्ली सरकार के विकास मंत्री गोपाल राय ने आज पूर्वी दिल्ली की गाजीपुर मुर्गा मंडी का दौरा किया. उनके साथ विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम भी इस दौरान मौजूद रही.

चिकन मंडी में मंत्री गोपाल राय की अगुवाई में डॉक्टरों ने पक्षियों की जांच की. वहां के इंतजाम से जांच टीम पूरी तरह संतुष्ट नजर आई. गौरतलब है कि दिल्ली के चिड़ियाघर में आठ पक्षियों की बर्ड फ्लू से मौत के बाद जू को बंद कर दिया गया था. इसके अलावा डियर पार्क को भी बंद कर दिया गया है.   

एएनआई

गाजीपुर मंडी का दौरा करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में मंत्री गोपाल राय ने कहा, "मंडी में लाए जा रहे पक्षियों की कड़ी निगरानी की जा रही है. हालात सामान्य हैं और हाल ही में मंडी में लाए गए 2.2 लाख पक्षियों में बर्ड फ्लू जैसा कोई संक्रमण नहीं पाया गया."

23 अक्टूबर से फिटनेस सर्टिफिकेट जरूरी

गोपाल राय ने मंडी में लाए जा रहे पक्षियों की निगरानी पर खास जोर देनी का भरोसा दिया. गोपाल राय ने कहा, "संक्रमण के खतरे पर नियंत्रण के लिए हम एक मेडिकल कार्ड जारी करेंगे, जो गाजीपुर मंडी के प्रवेश द्वार पर इस्तेमाल होगा."

इसके साथ ही गोपाल राय ने कहा कि 23 अक्टूबर से बिना फिटनेस सर्टिफिकेट के किसी भी ट्रक को मंडी में प्रवेश की इजाजत नहीं होगी. पशुपालन विभाग और मंडी अधिकारियों की एक टीम बनाई जाएगी.

जू और डियर पार्क बंद

मंगलवार से दिल्ली के चिड़ियाघर में पर्यटकों की एंट्री पूरी तरह से रोक दी गई. सैंपल को जालंधर में जांच के लिए भेजा गया था. जहां से सोमवार को आई रिपोर्ट में नौ में से आठ पक्षियों की मौत की वजह बर्ड फ्लू को बताया गया है.

बताया जा रहा है कि चिड़ियाघर प्रशासन अब इस बात की जांच में जुटा है कि वहां मौजूद बाकी पक्षियों में तो इसका संक्रमण नहीं फैल गया है. बीट नंबर 5 और बीट नंबर 15 में पक्षियों की मौत हुई है.

प्रशासन को यह भी डर है कि कहीं बर्ड फ्लू वायरस का इंफेक्शन और पक्षियों में न फैल गया हो. इससे पहले भी जू में 50 हिरणों की मौत हो चुकी है.

बर्ड फ्लू H5N1 वायरस है, जो पक्षियों में पाया जाता है. यह आसानी से इंसानों तक फैल जाता है. इससे फेफड़ों में संक्रमण हो जाता है. जिसके शिकार 90 फीसदी लोगों को जान का खतरा होता है.

लगातार चौथे दिन बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए चिड़ियाघर को बंद रखा गया है. वहीं दक्षिणी दिल्ली के हौज खास इलाके में स्थित डियर पार्क को एहतियातन 24 अक्टूबर तक के लिए बंद किया गया है.

First published: 21 October 2016, 3:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी