Home » दिल्ली » clases between aam admi party and bjp on ceiling in arvind kejriwal home
 

सीलिंग मुद्दा: केजरीवाल के घर गये बीजेपी नेताओं से हुई धक्का-मुक्की

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 January 2018, 12:16 IST

दिल्ली में चल रही सीलिंग पर दिल्ली की राजनीति में तूफान आया हुआ है. दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी सरकार सीलिंग के लिए बीजेपी को जिम्मेदार मान रही है तो बीजेपी इसके लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को दोषी ठहरा रही है. इसी मुद्दे पर आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल के घर गए बीजेपी नेताओं के साथ कथित धक्का मुक्की की गई है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिल्ली भाजपा इकाई के अध्यक्ष तथा सांसद मनोज तिवारी की अगुवाई में विधायक और व्यापारी प्रतिनिधियों का एक दल मंगलवार की सुबह दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मिलने उनके निवास पर पहुंचे. प्रतिनिधिमंडल में बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी, विधायक विजेंद्र गुप्ता तथा तीनों नगर निगमों के मेयर भी थे. इस दौरान भाजपा और आप कार्यकर्ताओं में नोकझोंक और झड़प भी हुई.

 

मीडिया के सामने इस खुली बैठक पर सांसद मनोज तिवारी ने आरोप लगाया कि उन्होंने मुख्यमंत्री से कई बार मिलने का समय मांगा, लेकिन दिल्ली सरकार ने समय नहीं दिया. उन्होंने कहा कि आज जब समय दिया है तो यहां कोई व्यवस्था नहीं है. मुलाकात सफल नहीं होने पर सीएम आवास से बाहर आ रहे बीजेपी नेताओं को 'आप' कार्यकर्ताओं ने घेर लिया और उनके खिलाफ नारेबाजी करने लगे. इन दौरान कुछ नेताओं के साथ धक्का-मुक्की की गई.

पहले दोनों पार्टियों के नेताओं में बातचीत शुरू हुई लेकिन जल्द ही बातचीत के दौरान दोनों पार्टियों के नेताओं में तीखी बहस होने लगी. तिवारी ने आरोप लगाया कि आप के विधायक उनका अपमान कर रहे हैं. इस मुद्दे पर सांसद अपने कार्यकार्ताओं के साथ सीएम आवास के बाहर धरने पर बैठ गए.

 

सांसद तिवारी ने कहा कि पूरी दिल्ली इस समय सीलिंग से परेशान है. तीन साल पहले जिन वादों को करके आम आदमी पार्टी दिल्ली की सत्ता में आई, उनमें से कोई भी वादा पूरा नहीं किया गया है. उल्टा सीलिंग शुरू करके कारोबारियों का दमन किया जा रहा है. हजारों लोग बेरोजगार हो गए हैं. लोगों का कामकाज ठप पड़ गया है.

इससे पहले सोमवार को 'आप' कार्यकर्ताओं ने इस मुद्दे पर जंतर-मंतर पर प्रदर्शन किया था. कार्यकर्ताओं का आरोप है कि शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने पर भी पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज किया.

First published: 30 January 2018, 12:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी