Home » दिल्ली » Delhi: Air Quality Index at RK Puram, Mandir Marg and Anand Vihar remain in Hazardous category
 

दिल्ली में अगले तीन दिन बेहद खतरनाक, जिंदा रहना है तो घर में रहें !

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 June 2018, 9:46 IST

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण की वजह से हालात काफी गंभीर हो गए हैं. दिल्ली में प्रदूषण का स्तर इतना बढ़ गया है कि यहां प्रदूषण नापने की मशीन भी फेल हो गई है. दिल्ली में अगले तीन दिन बेहद खतरनाक हैं. अगले तीन दिन तक पीएम 10 का स्तर खतरनाक लेवल पर बना रहेगा.

दिल्ली के आर के पुरम, मंदिर मार्ग और आनंद विहार में स्थिति सबसे भयानक है. दिल्ली में एयर इंडेक्स 431 दर्ज हुआ है. दरअसल धूल भरी हवाओं की वजह से दिल्ली में सांस लेना मुश्किल हो गया है. राजस्‍थान में चल रही धूल भरी आंधी की वजह से दिल्ली-एनसीआर में हवा में धूल के नैनों पार्टिकिल्स खतरनाक स्तर पर पहुंच गए हैं.

डॉक्टरों का कहना है कि दिल्ली की हवा में धूल के कणों का स्तर इतना अधिक है कि अगर कोई सामान्य इंसान पांच घंटे भी हवा में सांस ले तो उसमें अस्थमा के लक्षण नजर आने लगेंगे.

 

इसकी वजह से 17 जून तक दिल्ली में सभी तरह की कंस्ट्रक्शन एक्टिविटी पर रोक लगा दी गई है. नगर निगम और पीडब्ल्यूडी सड़कों की सफाई मैकेनिकल मशीनों से करेंगे. यहां तक कि मेर रोड पर झाडू तक नहीं लगाई जाएगी.

हरियाणा में भी 24 घंटों के लिए कंस्ट्रक्शन एक्टिविट रोक दी गई है. वहीं, चंडीगढ़ में खराब विजिबिलिटी के कारण इंडिगो और जेट एयरवेज ने फ्लाइट कैंसिल कर दी है.

अगर एनसीआर की बात करें तो यहां सबसे ज्यादा प्रदूषित ग्रेटर नोएडा है. नोएडा में एयर इंडेक्स 500 है. जबकि गुडगांव में 485, नोएडा में 390, गाजियाबाद में 384 और फरीदाबाद में 317 एयर इंडेक्स दर्ज हुआ.

पढ़ें- दिल्ली में भीषण गर्मी के बाद प्रदूषण ने लोगों का जीना किया दूभर, बच्चे-बुजुर्ग सबसे ज्यादा परेशान

मौसम विभाग के अनुसार, राजस्थान से उठने वाली धूल के चलते यूपी के पश्चिमी इलाके तक धूल की चपेट में हैं. माना जा रहा है कि ये हालात अगले तीन दिन तक ऐसे ही बने रहेंगे.

First published: 15 June 2018, 9:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी