Home » दिल्ली » Delhi government promises for electricity bill not increase in next five years
 

दिल्ली सरकार का एक और तोहफा, पांच साल तक बिजली का बिल नहीं बढ़ाने का किया दावा

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 August 2019, 9:34 IST

दिल्ली सरकार ने आम जनता को एक और तोहफा दिया है. दरअसल, दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने लोगों से वादा किया है कि वह अगले पांच सालों तक बिजली का बिल नहीं बढ़ाएगी. दिल्ली सरकार के इस दावे को बड़ी राहत के तौर पर देखा जा रहा हैबता दें कि आप सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन ने दावा किया है कि दिल्ली में अगले पांच साल तक बिजली की कीमतों में इजाफा नहीं किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि अगर केंद्रीय करों में से दिल्ली को पूरी हिस्सेदारी मिल जाए तो आप सरकार सभी बिजली उपभोक्ताओं का बिल माफ कर देगी. शुक्रवार को सत्येंद्र जैन ने विधानसभा में बिजली के मुद्दे पर अल्पकालिक चर्चा के दौरान यह बात कही. उसके बाद ध्वनिमत से इससे जुड़ा संकल्प सदन में पास किया गया.

इससे पहले आप विधायक संजीव झा ने भी दिल्ली में बिजली से जुड़े बुनियादी ढांचे में सुधार के बारे में बात कह. उन्होंने अल्पकालिक चर्चा के दौरान कहा कि दिल्ली में 24 घंटे बिजली की आपूर्ति और बिजली दरों के युक्तिकरण समाधान भी जरूरी है. इस मुद्दे पर विधायक नितिन त्यागी ने एक संकल्प भी विधानसभा में पेश किया.

इसी दौरान मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली सरकार को केंद्रीय करों में 40,000 करोड़ की हिस्सेदारी मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार को अभी सिर्फ 325 करोड़ रुपये ही मिलता है. केंद्र अगर दिल्ली की पूरी हिस्सेदारी दे दे तो वह सभी को मुफ्त बिजली देकर दिखाएंगे. यही नहीं सतेंद्र जैन ने दावा किया कि दिल्ली में उनकी सरकार अगले पांच साल तक बिजली के दाम नहीं बढ़ने देगी.

मंत्री सतेंद्र जैन ने बताया कि 2010-2013 के बीच दिल्ली में बिजली दरों में 70 फीसदी का इजाफा किया गया. उन्होंने कहा कि इस लिहाज से अगर बीते पांच सालों में बिजली के बिल बढ़ते तो उपभोक्ताओं को 150 फीसदी तक ज्यादा शुल्क देना पड़ता. जैन ने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार ने इस बीच बिजली की दरों को सस्ता किया है.

वहीं आम आदमी पार्टी विधायक संजीव झा ने चर्चा की शुरुआत करते हुए कहा कि दिल्ली सरकार जनहित में काम करने वाली देश की इकलौती सरकार है. वहीं चर्चा में शामिल अन्य विधायकों ने भी दिल्ली सरकार के कामों की जमकर तारीफ की. यही नहीं उन्होंने दूसरे राज्यों की सरकारों को भी नसीहत दी कि वह भी दिल्ली सरकार की तरह ही काम करें और लोगों को ज्यादा से ज्यादा फायदा पहुंचाएं.

महाराष्ट्र के भिवंडी में भीषण हादसा, चार मंजिला इमारत गिरी, दो लोगों की मौत कई दबे

First published: 24 August 2019, 9:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी