Home » दिल्ली » Delhi High Court: Due to Rape, Born baby eligible for Compensation
 

दिल्ली हाई कोर्ट: रेप के कारण पैदा हुआ बच्चा मुआवजे का हकदार है

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 December 2016, 11:40 IST
(कैच)

दिल्ली हाई कोर्ट ने एक मामले की सुनवाई में अहम फैसले देते हुए आदेश दिया कि रेप की वजह से पैदा हुआ बच्चा उस मुआवजे को पाने का हकदार है, जो उसकी पीड़ित मां को दिया गया है.

दिल्ली हाई कोर्ट का यह ऐतिहासिक फैसला जस्टिस गीता मित्तल और जस्टिस आरके गाबा की बेंच ने दिया है. कोर्ट ने यह फैसला उस केस के संदर्भ में दिया, जिसमें एक पिता द्वारा अपनी नाबालिग सौतेली बेटी से किए गए रेप के चलते एक बच्चे का जन्म हुआ था.

इस मामले में निचली अदालत ने पीड़िता को 15 लाख का मुआवजा देने का आदेश दिया था. हालांकि हाईकोर्ट ने मुआवजे की राशि को दिल्ली सरकार की वर्ष 2011 की नीति के तहत अधिक बताते हुए मुआवजा राशि कम करके साढ़े सात लाख कर दिया.

इस केस में अभियुक्त पिता को अदालत ने पोक्सो कानून के तहत आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी. अदालत अभियुक्त पिता की अपील पर सुनवाई कर रही थी.

हाईकोर्ट ने निचली अदालत के फैसले को बरकरार रखते हुए कहा कि अभियुक्त को अपनी प्राकृतिक मौत होने तक जेल में ही रहना होगा.

हालांकि निचली अदालत पर हाईकोर्ट ने इस बात पर भी नाराजगी जताई कि सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइंस के खिलाफ वह पीड़िता की पहचान छुपाने में नाकाम रही.

First published: 14 December 2016, 11:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी