Home » दिल्ली » delhi metro’s pink line to open from wednesday north and south campus will connect now
 

बुधवार से शुरू होगी दिल्ली मेट्रो की पिंक लाइन, नॉर्थ से साउथ कैंपस की दूरी होगी कम

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 March 2018, 11:29 IST

नार्थ और साउथ दिल्ली की ओर रोजाना यात्रा करने वाले लोगों बुधवार से जाम के झंझट से राहत मिलने जा रही है. क्योंकि बुधवार से दिल्ली मैट्रो की पिंक लाइन शुरू हो जाएगी. इससे नॉर्थ दिल्ली से साउथ दिल्ली महज 35 मिनट में पहुंचा जा सकेगा.

इसके साथ ही दिल्ली यूनिवर्सिटी के नॉर्थ और साउथ कैंपस आपस पहुंचना आसान हो जाएगा. मेट्रो के इस फेस में मजलिस पार्क से शिव विहार के बीच 59 किमी लंबी पिंक लाइन बनाई गई है. इसका एक हिस्सा बुधवार से यात्रियों के लिए खुल जाएगा. बता देंकि अभी साउथ कैंपस से मजलिस पार्क के बीच ही मेट्रो चलाई जाएगी.

यात्रियों के लिए ये रूट बुधवार शाम 6 बजे से खोल दिया जाएगा. इस लाइन पर मेट्रो ने कई अनूठे कीर्तिमान भी स्थापित किए हैं. पिंक लाइन पर कुल 19 मैट्रो ट्रेन चलाई जाएंगी. जिनकी फ्रिक्वेंसी 2 मिनट 28 सेकंड से लेकर 5 मिनट 12 सेकंड होगी.

पिंक लाइन पर और क्या खास इंतजाम होंगे

इस लाइन पर 8 एलिवेटेड स्टेशन बनाए गए हैं. जिनमें साउथ कैंपस, दिल्ली कैंट, मायापुरी, राजौरी गार्डन, ईएसआई हॉस्पिटल, पंजाबी बाग वेस्ट, शकूरपुर, मजलिस पार्क शामिल हैं. वहीं 4 अंडरग्राउंड स्टेशन बनाए गए हैं. जिनमें नारायणा विहार, नेताजी सुभाष प्लेस, शालीमार बाग, आजादपुर शामिल हैं.

4 इंटरचेंट स्टेशन होंगे

पिंक लाइन पर 4 इंटरचेंज स्टेशन बनाए गए हैं. जिनमें यलो लाइन पर जाने के लिए आजादपुर, रेड लाइन के लिए नेताजी सुभाष प्लेस, ब्लू लाइन के लिए राजौरी गार्डन और एयरपोर्ट लाइन के लिए धौला कुंआं से इंटरचेंज किया जा सकेगा.

 

एक ही स्टेशन पर 4 प्लेटफॉर्म 

इंटरचेंज स्टेशनों पर ही दो से ज्यादा प्लेटफॉर्म देखने को मिलते हैं, लेकिन पिंक लाइन के 2 स्टेशनों पर इंटरचेंज की सुविधा न होने के बावजूद 4-4 प्लैटफार्म बनाए गए हैं. शकूरपुर और मजलिस पार्क पर इस तरह का स्ट्रक्चर है. भविष्य में जब यह 59 किमी लंबी लाइन पूरी खुल जाएगी, तो कभी किसी ट्रेन को बीच में रोकने या टर्मिनेट करने की जरूरत भी पड़ सकती है.

इसे देखते हुए इन दोनों स्टेशनों पर 4-4 प्लेटफॉर्म बनाए गए हैं. आमतौर पर इंटरचेंज स्टेशनों पर लाइन चेंज करने के लिए कोनकोर्स लेवल या ग्राउंड पर जाना पड़ता है, मगर राजौरी गार्डन स्टेशन पर यात्रियों को प्लेटफॉर्म से एक लेवल और ऊपर जाना पड़ेगा और उसके बाद ब्लूलाइन पर पहुंचा जा सकता है.

 

First published: 13 March 2018, 11:21 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी