Home » दिल्ली » Delhi police crime branch start investigation Ramkishan grewal suicide case
 

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने शुरू की रिटायर्ड फौजी के मौत की जांच

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 November 2016, 12:01 IST
(एजेंसी)

वन रैंक वन पेंशन (ओआरओपी) से असंतुष्ट होकर दिल्ली में कथित रूप से आत्महत्या करने वाले पूर्व सैनिक रामकिशन ग्रैवाल के मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने अपनी जांच शुरू कर दी है.

क्राइम ब्रांच आत्महत्या करने वाले ग्रेवाल के उन साथियों से पूछताछ कर सकती है, जो ओआरओपी की मांग को लेकर ग्रेवाल के साथ धरने पर बैठे थे.

इसके अलावा दिल्ली पुलिस ने मामले में यह भी स्पष्ट कर दिया है कि अगर कोई राजनीतिक दल इस मामले में विरोध-प्रदर्शन का प्रयास करेंगे या उस दौरान कानून का उल्लंघन करेंगे तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

दिल्ली पुलिस आयुक्त आलोक कुमार वर्मा के आदेश पर ग्रेवाल आत्महत्या की जांच क्राइम ब्रांच को सौंपी गई है.

इस संबंध में क्राइम ब्रांच के संयुक्त पुलिस आयुक्त रविंद्र यादव ने कहा कि हमने आदेश मिलने के बाद केस अपने हाथ में ले लिया है और जांच की प्रक्रिया शुरू कर दी है.

गौरलतब है कि बीते मंगलवार को 70 साल के रामकिशन ग्रेवाल वन रैंक वन पेंशन (ओआरओपी) योजना लागू किए जाने की मांग को लेकर कथित रूप से जहर खाकर खुदकुशी कर ली थी. वह सेना के राजपूताना राइफल्स में अपनी सेवाएं दे चुके थे.

बीते गुरुवार को ग्रेवाल का अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव भिवानी के बामला में किया गया. उस मौके पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत कई नेता मौजूद थे.

ग्रेवाल मामले में दिल्ली पुलिस ने बीते दो दिनों में राहुल गांधी को तीन बार हिरासत में लिया. वहीं दिल्ली के सीएम केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को भी दिल्ली पुलिस ने कानून व्यवस्था भंग करने के आरोप में हिरासत में ले लिया था.

First published: 4 November 2016, 12:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी