Home » दिल्ली » Delhi Saket Court orders framing of charges against Environmentalist RK Pachauri in a sexual harassment case
 

यौन उत्पीड़न केस : कोर्ट का RK पचौरी के खिलाफ आरोप तय करने का आदेश

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 September 2018, 16:35 IST
(file photo )

प्रसिद्ध वर्यावरणविद् आर के पचौरी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. दिल्ली की साकेत कोर्ट ने आर के पचौरी के खिलाफ यौन उत्पीड़न मामले में आरोप तय करने का आदेश दिया है. कोर्ट ने आरके पचौरी के खिलाफ विभिन्न गंभीर धराओं के तहत चार्ज लगाने का आदेश दिया है. जिसमें कोर्ट ने सुनवाई की अगली तारीख 20 अक्टूबर तय की है.

मीडिया खबरों के मुताबिक, साकेत कोर्ट ने शुक्रवार को यौन उत्पीड़न मामले में आर के पचौरी के खिलाफ आरोप तय करने का आदेश देते हुए कहा कि आरोपी के खिलाफ IPC की धारा 354(महिला का शील भंग करना), 354(ए) यौन उप्तीड़न, 509(महिला को अपशब्द बोलना) और 354बी(महिला पर बल प्रयोग), 354(डी) स्टाकिंग, 341( रॉंगफुल रेस्ट्रेन) के तहत चार्ज लगाया जाए. कोर्ट इस मामले में अगली सुनवाई 2 अक्टूबर को करेगी.

कोर्ट के आदेश को लेकर पीड़िता ने खुशी जाहिर की है. कोर्ट के आदेश के बाद पीड़िता ने कहा कि ये उनके लिए आसान नहीं है.यह सच्चाई की ओर एक बहुत बड़ी छलांग है. आर के पचौरी के खिलाफ लड़ाई लड़ने से मैं थक गई थी. जिससे मुझे अब राहत मिली है.  

आपको बता दें कि प्रसिद्ध वर्यावरणविद् आर के पचौरी के द एनवायरनमेंट एंड रिसोर्स इंस्टीट्यूट के पूर्व चैयरमैन रहे हैं. उनके खिलाफ एक यूरोपीय महिला ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. महिला ने खुद को पचौरी का पूर्व सचिव बताया है. पचौरी पर उनके साथ काम कर चुकी तीन महिलाओं ने इस तरह के आरोप लगाए हैं. उनमें से यूरोपीय महिला के साथ यौन उत्पीड़न मामले में कोर्ट ने पचौरी के खिलाफ चार्ज लगाने का आदेश दिया है.

ये भी पढ़ें-  आरके पचौरी पर तीसरी महिला ने लगाया यौन शोषण का आरोप

 

First published: 14 September 2018, 16:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी