Home » दिल्ली » Delhi: Three minor girld death due to starved in the confirms autopsy report, kejriwal govt orders inquiry
 

दिल्ली: भुखमरी से हुई तीन बच्चियों की मौत- पोस्टमार्टम रिपोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 July 2018, 16:04 IST

पूर्वी दिल्ली के मंडावली में एक ही परिवार की तीन बच्चियों की हुई मौत के मामले में दसरी पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी आ गई है. दूसरी बार कराए गए पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी बच्चियों की मौत भूख के कारण होने की पुष्टि हुई है. जीटीबी अस्पताल में तीनों बच्चियों के शव का दूसरी बार पोस्टमार्टम कराया गया था. पहली बार कराए गए पोस्टमॉर्टम में भी मौत की वजह भूख बताई गई थी. डॉक्टरों के मुताबिक, उन्हें सात-आठ दिन से खाना नहीं मिला था. दूसरी तरफ दिल्ली सरकार ने मामले की जांच के आदेश जारी कर दिए हैं. मनीष सिसोदिया ने भी गुरुवार को पीड़ित परिवार के घर जाने का बात कही है.

मीडिया खबरों के अनुसार, लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में कराए गए पहले पोस्टमॉर्टम में तीन बच्चियों की मौत की वजह भूख को बताया गय था. इसके बाद तीनों बच्चियों के शव का फिर से पोस्टमार्टम कराया गया. जीटीबी अस्पताल में तीन डॉक्टरों की टीम ने तीनों बच्चियों के शव का दूसरी बार पोस्टमार्टम किया. इसके बाद बच्चियों के शव को अंतिम संस्कार के लिए उनकी मां को सौंप दिया गया है. मामल सामने आने के बाद दिल्ली सरकार ने एसडीएम जांच के आदेश दिए हैं.

वहीं, दिल्ली पुलिस का कहना है कि मौत की वजह की पुष्टि करने के लिए एक बार फिर से पोस्टमॉर्टम कराया गया था. जिसमें भी बच्चियों की मौत की वजह भूख को बताया गया है. बच्चियों के पेट में अन्न का दाना नहीं मिला है. अब बच्चियों की मौत की वजह को लेकर किसी भी प्रकार की शंका नहीं रह गई है.

दिल्ली पुलिस का कहना है कि पहली बार हुए पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में बच्चियों की मौत अस्पताल पहुंचने के 12 से 18 घंटे पहले होना बताया गया था. बच्चियों के घर की जांच के लिए फोरेंसिक टीम को जांच के लिए उनके घर भेजा गया है. जांच टीम उस जगह का निरीक्षण करेगी, जिस जगह पर बच्चियों को मृत पाया गया था. इसके अलावा रोहिनी से एफएसएल टीम को घर की फोरेंसिक परीक्षा आयोजित करने के लिए भी बुलाया गया था. हम फोरेंसिक जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा कर रहे हैं.

पुलिस अधिकारी ने कहा कि तीनों बच्चियों शिखा (8 साल), मानसी (4 साल) और पारुल (2 साल) के माता पिता को भुखमरी के कारण अपना घर छोड़कर मंडावली में दोस्त के घर रहने के लिए जाना पड़ा. तीनों बच्चियों तीन से भूखी थीं. बच्चियों की मां ने पुलिस को बताया कि बच्चियों को उल्टियां शुरू हो गई थीं. वह पेट में दर्द की शिकायत कर रही थीं.

दिल्ली सरकार ने दिए जांच के आदेश

बच्चियों की मौत को लेकर दिल्ली में राजनीति शुरू हो गई है. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा है कि मंडावली में तीन बच्चियों की मौत की घटना की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं. यह परिवार दो दिन पहले ही मंडावली में एक मकान में रह रहे किराएदार के यहां मेहमान आया था. घटना के पहले से ही बच्चियों के मजदूर पिता काम पर गए थे जो लौटे नहीं हैं. मां भी पहले से मानसिक बीमार हैं.  इसके बाद मनीष सिसोदिया ने बुधवार को अपने इसी ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा, मैं कल पीड़ित परिवार के घर जाऊंगा. घटना जायजा लूंगा.

गौरतलब है कि मंगलवार को अचानक से तीनों सगी बहनों की मौत होने से इलाके में सनसनी फैल गई थी. मौत से पहले तीनों बच्चियों की अचानक तबीयत खराब हो गई थी. उनको उल्टियां शुरू हो गई थीं. हालात खराब होते देख तीनों को अस्पताल ले जाया गया. जहां पहुंचने से पहले ही तीनों की मौत हो गई थी. डॉक्टरों ने तीनों को मृत घोषित कर दिया था. तीनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया था. 

ये भी पढ़ें- दिल्ली: भूखमरी ने ली तीन सगी बहनों की जान, सवालों में केजरीवाल सरकार

 

First published: 26 July 2018, 15:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी