Home » दिल्ली » gurpreet singh loses wallet on delhi metro, Gets It Back In parcel 11 Days Later
 

दिल्ली मेट्रो में खोया था पर्स, 11 दिन बाद कोरियर मिला तो आंख रह गईं फटी

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 March 2018, 13:23 IST

जहां आपको हर समय दिल्ली मेट्रो में चोरी की घटनाएं सुनने को मिलती हैं, वहीं, दिल्ली से एक ईमानदारी की मिसाल सामने आई है. दिल्ली मेट्रों में हर रोज लाखों लोग सफर करते हैं और कितनों के ही वॉलेट और मोबाइल खो जाते हैं, लेकिन आज पहली बार किसी को उसका पर्स वापस मिला है.

दरअसल, यह पूरी घटना दिल्ली निवसी  गुरप्रीत की है , बता दें 24 साल के गुरप्रीत को दिल्ली मेट्रो में यात्रा के दौरान पर्स खो गया, इस संबंध में उन्होंने अपने फेसबुक पर एक पोस्ट की और इसके जरिये वह घटना के 11 दिन बाद 15 मार्च को अपना पर्स वापस पाने में कामयाब भी हुए.

एनडीटीवी के अनुसार गुरप्रीत ने कहा कि "मैं केंद्रीय सचिवालय से  लाजपत नगर जा रहा था. जैसे ही मैं लाजपत नगर मेट्रो स्टेशन से बाहर निकला, मुझे एहसास हुआ कि मेरे पॉकेट में मेरा पर्स तो है ही नहीं".

इसके बाद वह तुरंत मेट्रो में मौजूद कस्टमर केयर सेंटर पर गये और उन्हें बताया गया कि जब तक ट्रेन सरिता विहार यानी अंतिम छोर तक नहीं पहुंचती तब तक कुछ मिनट तक उन्हें इंतजार करना होगा.

गुरप्रीत ने इस बारे में कहा, "26 मार्च को मुझे एक पार्सल मिला. जिसमें मेरा पर्स और एक लेटर था.इस पार्सल को भेजने वाले का नाम सिद्धार्थ मेहता है, उन्हें ही मेरा पर्स मिला था. उन्होंने न सिर्फ मेरे पर्स लौटाए, बल्कि उसमें मेरे पैसे और सारे कागजात भी मौजूद थे." पर्स मिलते ही गुरप्रीत ने रप्रीत ने फेसबुक पोस्ट पर सिद्धार्थ को धन्यवाद दिया और पोस्ट में सिद्धार्थ की काफी प्रशंसा की गई. कुछ कमेंट करने वालों ने लिखा- मानवता और इंसानियत आज भी जिंदा है भाई. कुछ ने लिखा- वाह शानदार, इंसानियत आज भी है.

First published: 29 March 2018, 13:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी