Home » दिल्ली » Jamia Millia Islamia University Campus tense after communal slogans on Jinnah in New Delhi
 

जिन्ना के विरोध में जामिया मिलिया इस्लामिया में लगे नारे, माहौल गरमाया

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 May 2018, 11:11 IST

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर हटाने को लेकर चल रहा विवाद दिल्ली तक पहुंच गया है. मंगलवार को जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के मेन गेट पर दो दर्शन प्रदर्शनकारियों ने सांप्रदायिक नारे लगाए. इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने ‘जिन्ना प्रेमी भारत छोड़ो’ और 'हिन्दुओं को डराना बंद करो' जैसे सांप्रदायिक नारे लगाए.

प्रदर्शनकारियों का नेत्रत्व कर रहे आरएसएस के एक सदस्य राहुल तिवारी ने दावा किया कि वह यूनिवर्सिटी में पोस्टग्रेजुएशन का छात्र है. उसने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा कि "जिन भी बंधुओं को जिन्ना का समर्थन करना है एवं जामिया के हिन्दू विद्यार्थियों को धमकाना है, आज शाम 6 बजे जुलेना एवरग्रीन स्वीट आएं, उनकी सुताई का पूरा बंदोबस्त रखा गया है.”

तिवारी ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि छात्रों को मारने की बात व्यंग्यात्मक रूप में लिखी गई थी. राहुल ने ये बात भी स्वीकार की कि उन्ही के द्वारा ये विरोध प्रदर्शन किया गया है.

उसके बाद रात तक यूनिवर्सिटी का माहौल गर्मा गया, तमाम छात्रों ने मांग की नारेबाजी करने वालों की पहचान कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए. वहीं आरएसएस की छात्र विंग एबीवीपी ने भी नारेबाजी की निंदा की है. जामिया के एबीवीपी इकाई के सचिव आसिफ आफताब ने कहा कि, "इस तरह के सांप्रदायिक नारे नहीं लगाने चाहिए. हम इसकी निंदा करते हैं.”

वहीं मीडिया कोर्डिनेटर साइमा सईद ने कहा कि, “वे अज्ञात लोग कैंपस में प्रवेश नहीं कर पाए. वे केवल सड़क यूनिवर्सिटी के गेट पर प्रदर्शन करते रहे.”

ये भी पढ़ें- कुली ने पास की सिविल सर्विस की परीक्षा, रेलवे स्टेशन पर ऐसे की फ्री Wi-Fi से पढ़ाई

First published: 9 May 2018, 10:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी