Home » दिल्ली » Minor Girl Killed after Asking for Monthly Salary in Delhi Her body cut into 12 parts
 

सैलरी मांगी तो नाबालिग लड़की को दे दी मौत, शव के कर दिए 12 टुकड़े

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 May 2018, 13:22 IST

पैसे के लिए इंसान दिन-रात मेहनत करता है, लेकिन मेहनत करने के बावजूद किसी को पैसे नहीं मिलते और उसे मौत दे दी जाती है. ऐसा ही एक मामला दिल्ली में सामने आया है. जहां सैलरी मांगने पर एक 15 साल की लड़की की हत्या कर दी गई. यही नहीं आरोपी ने लड़की के शरीर के छोटे-छोटे टुकड़े कर दिए.

पुलिस के मुताबिक बच्ची ने महीने की अपनी सैलरी मांगीं तो उसकी हत्या कर दी गई. यही नहीं लड़की के शरीर के 12 टुकड़े कर दिए. इस मामले में पुलिस ने दिल्ली के नांगलोई से मंजीत करकेता नाम के एक शख्स को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि लड़की आरोपी के घर में काम करती थी. जिसके बदले में उसे 6500 रुपये सैलरी मिलती थी और वह रांची की रहने वाली थी.

एडिशनल डिप्टी कमिश्नर राजेन्द्र सिंह सागर के मुताबिक लड़की पिछले तीन साल से ईस्ट ऑफ कैलाश में एक बिजनेसमैन के यहां काम कर रही थी, लेकिन उसे एक रूपया भी सैलरी नहीं दी गई. सिंह के मुताबिक लड़की का मालिक सैलरी देता था, लेकिन जो लोग उसे दिल्ली ले कर आए थे, वो पूरा पैसा खा जाते थे. जिस वजह से लड़की को कभी एक रुपया भी नहीं दिया गया.

पुलिस के मुताबिक एक महिला सहित कुल चार लोग लड़की की हत्या में शामिल हैं. पुलिस ने बताया कि एक आरोपी की गिरफ्तार के बाद लड़की की हत्या की मुख्य वजह के बारे में पता चला. बता दें कि लड़की के पिता की कई साल पहले मौत हो चुकी है. लड़की अपने मां और दो भाइयों के साथ झारखंड के मालगो गांव में रहती थी.

आर्थिक तंगी की वजह से परिवार ने बेटी को काम करने के लिए दिल्ली भेज दिया था. आरोपी करकेता और उसका साथी साहू और गौरी ने लड़की को अच्छी सैलरी दिलाने का लालच दिया और उसे दिल्ली ले आए थे. पुलिस के मुताबिक ये लोग कोई प्लेसमेंट एजेंसी नहीं चलाते हैं. बावजूद इसके झारखंड से कई लड़कियों को काम दिलाने के लिए दिल्ली लेकर आते हैं. उसके बाद उन लड़कियों को दिल्ली के अगल-अगल इलाकों में कोठियों और घर के काम में लगा देते हैं.

गौरतलब है कि कई प्लेसमेंट एजेंसियां अन्य राज्यों से लड़की-लड़कियों को दिल्ली लेकर आती हैं. जहां उन्हें कम सैलरी पर घर और कोठियों में काम पर लगा दिया जाता है. यही नहीं कई बार ये प्लेसमेंट एजेंसियां लड़के-लड़कियों को मिलने वाली सैलरी में कमीशन तक की मांग करते हैं.

ये भी पढ़ें- जज लोया केस: मौत की स्वतंत्र जांच के लिए फिर सुप्रीम कोर्ट पहुंचे वकील

First published: 21 May 2018, 13:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी