Home » दिल्ली » NDTV reach Supreme court against the ban
 

बैन के खिलाफ एनडीटीवी पहुंचा सुप्रीम कोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 November 2016, 15:12 IST
(एनडीटीवी)

मोदी सरकार के द्वारा हिंदी समाचार चैनल 'एनडीटीवी इंडिया' पर एक दिन के बैन के आदेश के खिलाफ चैनल ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है.

केंद्र सरकार ने चैनल पर पठानकोट हमले के दौरान प्रसारण मानकों की अनदेखी का आरोप लगाते हुए बुधवार, 9 नवंबर को एक दिन के लिए ऑफ एयर रहने का आदेश जारी किया है.

वहीं चैनल ने सरकार के इन आरोपों का खंडन करते हुए बयान जारी किया कि अन्य चैनलों तथा समाचारपत्रों ने भी एनडीटीवी के समान ही जानकारी दिखाई थी. इसलिए सरकार का यह आदेश बेहद ही गैरजिम्मेदाराना है. 

चैनल पर सरकार के इस प्रतिबंध की मीडिया जगत में कड़ी आलोचना हो रही है. प्रेस क्लब ऑफ इंडिया सहित सभी प्रेस संगठनों ने इसे 70 के दशक में देश में लागू की गई इमरजेंसी करार दिया है.

इस मामले में एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने अपने बयान में कहा, "अपनी तरह के इस पहले आदेश से पता चलता है कि वर्तमान मोदी सरकार समझती है कि उसे मीडिया के कामकाज में दखल देने और जब भी सरकार किसी कवरेज से सहमत न हो, उसे अपनी मर्ज़ी से किसी भी तरह की दंडात्मक कार्रवाई करने का अधिकार है."

इस बीच एनडीटीवी इंडिया पर लगे बैन को ज़ी मीडिया के मालिक सुभाष चंद्रा ने सही ठहराया है. चंद्रा ने ट्वीट करते हुए कहा, "देश की सुरक्षा में दो मत नहीं हो सकते. सरकार द्वारा एनडीटीवी इंडिया पर एक दिवसीय प्रतिबन्ध को मैं बिलकुल सही मानता हूं. एनडीटीवी पर एक दिन के बैन की सजा काफी कम है. देश की सुरक्षा से खिलवाड़ के लिए चैनल पर आजीवन प्रतिबन्ध लगा देना चाहिए.

चंद्रा ने ट्वीट में कहा, "आज गलत को गलत कहने पर, कुछ लोग आपातकाल कह रहे है! क्या देश की सुरक्षा का कोई भी महत्त्व नहीं है? यूपीए काल में जी न्यूज पर प्रतिबन्ध की बात चली थी, तब एनडीटीवी और बाकी तथाकथित बुद्धिजीवी क्यों चुप थे. इस वक्त एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया भी चुप्पी साधे हुआ था. मेरा तो यह भी विश्वास है कि अगर एनडीटीवी आदेश के खिलाफ कोर्ट में जाएगा तो उसे वहां से भी फटकार ही मिलेगी."

वहीं सरकार के प्रतिबंध का बचाव करते हुए सूचना एवं प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि यह प्रतिबंध देश की सुरक्षा के हित में है और इस मामले पर सरकार की आलोचना 'राजनीति से प्रेरित' लगती है.

First published: 7 November 2016, 15:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी