Home » दिल्ली » new born baby boy was declared dead by Max Hospital in Shalimar Bagh in Delhi, found to be alive by family later
 

लापरवाही: अस्पताल ने ज़िंदा नवजात को मरा बताकर परिवार को सौंपा

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 December 2017, 16:26 IST

देश की राजधानी दिल्ली के एक नामी-गिरामी हॉस्पिटल में बहुत बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है. जिस हॉस्पिटल के जिम्मे लोगों की जान बचाने की जिम्मेदारी होती है उसी अस्पताल ने शर्मनाक तरीके से एक जिंदा नवजात शिशु को मरा हुआ घोषित कर वापस कर दिया गया.

मामला दिल्ली के शालीमार बाग स्थित मैक्स हॉस्पिटल का है. यहां डॉक्टरों ने एक जिंदा बच्चे को मरा हुआ बताकर उसे परिजनों को सौंप दिया. इसके बाद जब परिजन मृतक नवजात शिशु को कार में लेकर घर जाने लगे तो अचानक उसने पैर चलाने शुरु कर दिए. इसके बाद वो उसे फौरन पास के अस्पताल में ले गए. अब बच्चे की हालत स्थिर और खतरे से बाहर है. 

अब तक मिली जानकारी के मुताबिक गुरुवार दोपहर मैक्स अस्पताल मे एक महिला की डिलीवरी कराई गई. महिला ने जुड़वा बच्चों को जन्म दिया. जुड़वा बच्चों में एक लड़का और लड़की थी.

इसके बाद डॉक्टरों ने इनमें से एक बच्चे को मृत बता दिया. थोड़ी देर बाद डॉक्टरों ने दूसरे बच्चे को भी मृत घोषित कर दिया और शव पार्सल में लपेटकर उन्हें दे दिए. इसके बाद जब परिवार वालें कार से मधुबन चौक तक पहुंचे तो अचानक लड़के की सांसें चलने लगीं और वो पार्सल के अंदर से पैर हिलाने लगा.

इसके बाद पीड़ित परिवार ने मैक्स अस्पताल जाकर हंगामा किया. परिवार ने पुलिस को सूचना देकर शालीमार बाग थाने में मामला दर्ज करा दिया है. दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता दीपेंद्र पाठक ने कहा कि ये हिला देनी वाली घटना है.

हमने केस की जांच और छानबीन शुरू कर दी है. हम इस मामले में मेडिकल काउंसिल और कानून के जानकारों से सलाह लेंगे. इसके बाद परिस्थतियों की विस्तार से जानकारी लेकर कोई एक्शन लेंगे.

First published: 1 December 2017, 16:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी