Home » दिल्ली » Protest turn violent near Ramjas college of Delhi University
 

वीडियो: दिल्ली यूनिवर्सिटी में एबीवीपी और छात्रों के बीच हिंसक झड़प, पत्थरबाज़ी

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 February 2017, 16:13 IST
कैच न्यूज़

दिल्ली के रामजस कॉलेज के पास एबीवीपी और अन्य छात्रों के बीच हिंसक झड़प हो गई है. तस्वीरों और वीडियो में मारपीट साफ देखी जा सकती है. कई छात्र ज़ख़्मी हुई हैं और कुछ को अस्पताल में भी भर्ती करवाया गया है. अभी तक सही-सही यह पता नहीं चल पाया है कि इस झड़प में कितने स्टूडेंट ज़ख्मी हुए हैं लेकिन लड़कियां भी हिंसक झड़प का शिकार हुई हैं. दिल्ली यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट यहां एबीवीपी के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन कर रहे थे.

 

मालूम हो कि दिल्ली विश्वविद्यालय के रामजस कॉलेज ने मंगलवार को जेएनयू के छात्र उमर खालिद और छात्रा शेहला राशिद को बुलाने का प्रोग्राम रद्द कर दिया था. दोनों यहां एक सेमिनार को संबोधित करने के लिए आने वाले थे. मगर यह प्रोग्राम एबीवीपी और डीयू छात्र संघ के हिंसक विरोध प्रदर्शन के बाद रद्द किया गया था.

एबीवीपी और डूसू के इस दबाव के बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्रों ने बुधवार की दोपहर कैंपस में विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया था. मगर बुधवार दोपहर 2 बजे के आसपास दोबारा झड़प शुरू हो गई. तस्वीरों और वीडियो में भागते हुए स्टूडेंट और टीचर दिखाई दे रहे हैं. मौक़े पर पुलिस मौजूद है लेकिन हालात काबू में नहीं किए जा सके.

कैच न्यूज़ के पत्रकार आदित्य मेनन और हिन्दुस्तान टाइम्स की पत्रकार हिना कौसर भी धक्का-मुक्की का शिकार हुई हैं.  कैंपस में दिल्ली पुलिस के जवानों के अलावा जगह-जगह रैपिड एक्शन फोर्स तैनात कर दी गई है.

 

जेएनयू स्टूडेंट खालिद उन छात्रों में शामिल है जिन पर पिछले साल एक कार्यक्रम में कथित रूप से देश विरोधी नारे लगाने का आरोप है. वहीं शेहला राशिद छात्र संघ की पूर्व उपाध्यक्ष हैं और छात्रों की गिरफ्तारी के विरोध में आंदोलन चलाने में शामिल थीं.

रामजस कॉलेज में ‘कल्चर ऑफ प्रोटेस्ट’ नाम से दो दिन का सेमिनार होना था. दोनों छात्र इसी सेमिनार के एक सेशन में हिस्सा लेने वाले थे. इसका आयोजन वर्डक्राफ्ट ने किया था जो कि रामजस कॉलेज की लिटरेरी सोसाइटी है.

कैच न्यूज़
कैच न्यूज़
First published: 22 February 2017, 16:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी