Home » दिल्ली » SC asks Sahara Chief Subrata Roy to deposit Rs 600 crore by February 6, 2017
 

नए साल पर भी जेल से बाहर रहेंगे सुब्रत रॉय, सुप्रीम कोर्ट ने बढ़ाई पैरोल

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 November 2016, 16:03 IST

सुप्रीम कोर्ट ने सहारा इंडिया समूह के मालिक सुब्रत रॉय को बड़ी राहत दी है. सर्वोच्च अदालत ने उनकी पैरोल की अवधि को बढ़ा दिया है. सुब्रत रॉय ने अपनी मां के निधन के बाद अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने के लिए पैरोल मांगी थी, उसके बाद से वे लगातार जेल से बाहर हैं.

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को इस मामले में सुनवाई करते हुए सहारा प्रमुख की पैरोल अवधि छह फरवरी 2017 तक के लिए बढ़ा दी है. साथ ही इसके लिए अदालत ने एक शर्त भी रखी है. सुप्रीम कोेर्ट ने इस अवधि के दौरान सुब्रत रॉय से 600 करोड़ रुपये जमा करने को कहा है.

सुब्रत रॉय को उनकी मां के निधन के बाद अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए इसी साल छह मई को चार हफ्ते की पैरोल मिली थी. बाद में उनकी पैरोल की मियाद बढ़ती चली गई. पिछले साढ़े चार महीने से सुब्रत रॉय जेल से बाहर हैं.

4 मार्च 2014 को गए थे जेल

निवेशकों के 24 हजार करोड़ रुपये न लौटाने के आरोप में सहारा इंडिया परिवार के मुखिया सुब्रत रॉय पिछले दो साल से तिहाड़ जेल में बंद थे. मां के निधन के बाद सुब्रत रॉय ने सुप्रीम कोर्ट से लखनऊ जाने के लिए पैरोल मांगी थी. 

इससे पहले भी सुब्रत रॉय ने सुप्रीम कोर्ट में कई बार मां की खराब तबीयत का हवाला देते हुए जमानत की गुहार लगाई थी. सुब्रत रॉय 4 मार्च 2014 से जेल में बंद थे. सुब्रत रॉय के वकीलों ने गर्मी न सह पाने के कारण उन्हें जमानत देने की अपील की थी, लेकिन राहत नहीं मिल पाई थी.

First published: 28 November 2016, 16:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी